नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट की आलोचना करने वाले ट्वीट को लेकर बीते दिनों अटॉर्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल ने कॉमेडियन कुणाल कामरा के खिलाफ न्यायालय की अवमानना की कार्रवाई शुरू करने पर सहमति जताई थी. इसके बाद कुणाल कामरा ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर एक ट्वीट कर खुला खत शेयर किया है. यह खत उन्होंने केंद्र सरकार के सबसे बड़े वकील के नाम लिखा है. कुणाल ने अपने पोस्ट में लिखा है कि वे अपने बयानों को लेकर माफी नहीं मांगने वाले हैं. Also Read - कुणाल कामरा के खिलाफ चलेगा सुप्रीम कोर्ट की अवमानना का केस, अर्नब की बेल के बाद किया था ट्वीट

कामरा ने ओपन लेटर शेयर किया जिसमें लिखा गया है कि मेरे विचार बदले नहीं है. दूसरों की निजी स्वतंत्रता पर उच्चतम न्यायालय की चुप्पी को आलोचना से अलग नहीं रखा जा सकता है. मेरे ना ही ट्वीट को वापस लेना या माफी मांगने का इरादा है. इस पोस्ट को शेयर कर उन्होंने कैप्शन लिखा- कोई वकील नहीं, कोई जुर्माना नहीं, कोई माफी नहीं और जगह की बर्बादी नहीं. Also Read - सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण मामले में कहा- कोर्ट आपके लिए निष्पक्ष है, पर क्या आप हैं...

बता दें कि अटॉर्नी जनरल ने गुरुवार के दिन की कोर्ट की अवमानना मामले की कार्रवाई शुरू करने को लेकर सहमति दी थी. उन्होंने कहा कि कामरा का ट्वीट आपत्तिजनक है और अब लोग यह समझ लें कि शीर्ष अदालत को निशाना बनाए जाने पर उन्हें सजा दिया जाएगा.