कानपुर। कॉलेज के दौरान लगभग हर एक स्टुडेंट का सपना होता है कि उसे कॉन्वोकेशन के दौरान डिग्री मिले और वह कॉन्वोकेशेन अपने सीनियर्स की तरह कॉन्वोकेशन कैप और रोब यानी ब्लेक कलर का गाउन पहन कर अपनी डिग्री लेने जाए. लेकिन आपको जानकार हैरान होगी कि देश में पहली बार एक ऐसा कॉन्वोकेश हुआ है जिसने सालों पुरनी परंपरा को तोड़ दिया है. Also Read - Fashionable Mask: IIT-Kanpur ने तैयार किए बेहद फैशनेबल मास्क, जानें कीमत, कहां से खरीदें...

इतिहास में पहली बार कॉन्वोकेश के दौरान कुर्ता-पजामा पहन कर स्टुडेंट्स ने डिग्री ली. यह वाकया कानपुर आईआईटी का है. जहां संस्थान के 50 साल पूरे होने पर  दीक्षांत समारोह के दौरान कुर्ता-पजामा पहना गया. Also Read - IIT कानपुर की किसानों को सौगात, बनाए सीड बॉल, बीज बोने के झंझट से मिलेगी राहत

हालांकि डायरेक्टर और अन्य चीफ गेस्ट ने गोल्डन रोब पर नीले रंग का स्टोल पहना. डिग्री मिलने के बाद स्टुेड्स ने खुशी जाहिर करने के लिए कॉन्वोकेश कैप की जगह स्टॉल और पगड़ी उछाली. Also Read - IIT कानपुर कोरोना के जंग में करेगा बड़ा सहयोग, एक दिन में बनाएगा 25 हजार N95, N99 मास्क

इससे पहले इसके लिए एक सर्वे करवाया गया था कि कॉन्वेशन में किस तरह की ड्रेस पहनना बेहतर होगा. जिसके बाद अधिकतर छात्रों ने कुर्ता-पजामा पर सहमती बनाई. वहीं एक प्रोफेसर ने कहा कि छात्रों में राष्ट्रवाद की भावना बढ़ाने के लिए सालों पुरानी परंपरा तोड़ते हुए इस तरह कदम उठाया गया है.