नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के रोज एवेन्यू में कांग्रेस पार्टी के मुख्यालय का निर्माण कार्य पैसे की कमी का कारण धीमा चल रहा है. इंदिरा भवन के नाम से बन रहे इस मुख्यालय का निर्माण कार्य नवंबर के मध्य तक पूरा कर लिया जाना था, लेकिन पैसे की कमी और पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव के कारण इसमें देरी हो रही है. कांग्रेस पार्टी का मौजूदा मुख्यालय 24, अकबर रोड में है. यह पिछले 40 साल से पार्टी का मुख्यालय है. इसके अलावा 26, अकबर रोड में कांग्रेस सेवा दल और 5 रायसीना रोड में इंडियन यूथ कांग्रेस का मुख्यालय है. पार्टी को इन तीनों भवनों को इस साल अक्टूबर में खाली कर नए भवन में अपना कार्यालय ले जाना था.

इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक नए मुख्यालय का निर्माण कार्य नवंबर 2016 में शुरू हुआ था. इसका ठेका एल एंड टी कंस्ट्रक्शन कंपनी को दिया गया था. इस पर 172 करोड़ रुपये का अनुमानित खर्च आने वाला था. कांग्रेस के एक पदाधिकारी के हवाले से अखबार ने लिखा है कि कुल निर्माण लागत 160.76 करोड़ रुपये की थी. बाकी हिस्सा सरकारी कर है. अब तक निर्माण कार्य पर करीब 80 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं. बाहर का काम करीब-करीब पूरा कर लिया गया है. केवल अंदर का काम बचा हुआ है.

मेरे लिए कोई पद अहम नहीं, सीएम के बारे में राहुल गांधी के फैसले का पालन करूंगा: गहलोत

गौरतलब है कि अगस्त 2016 में ही भाजपा के मुख्लालय का भी काम शुरू हुआ था. उसे रिकार्ड 18 महीने में बना लिया गया. अब भाजपा नया मुख्यालय 6, दीन दयाल उपाध्याय मार्ग है.

इस परियोजना से जुड़े लोगों ने बताया कि जुलाई से सितंबर के बीच पैसे की कमी के कारण निर्माण कार्य की गति धीमी रही. इसके लिए पार्टी ने क्राउड फंडिंग का विकल्प खोजा था लेकिन वह कारगर नहीं हो पाया. हालांकि अक्टूबर में पार्टी ने फंड की व्यवस्था कर दी जिसके बाद निर्माण की गति सामान्य हो गई. निर्माण कार्य जारी है लेकिन यह बहुत तेजी से नहीं हो रहा है. उन्होंने बताया कि अगर नियमित रूप से पैसा आते रहा तो कंपनी चार महीने में निर्माण कार्य पूरा कर देगी लेकिन अभी सभी बड़े नेता विधानसभा चुनावों में व्यस्त हैं ऐसे में कोई नया निर्देश नहीं आया है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल बोरा और अहमद पटेल नियमित रूप से निर्माण कार्यों का निरीक्षण करते रहे हैं. इस बारे में पूछे जाने पर वोरा ने निर्माण कार्य के बारे में कुछ भी बोलने से मना कर दिया. 21 हजार वर्ग फुट से अधिक क्षेत्र वाले इस छह मंजिल के इस हाइटेक मुख्यालय की डिजाइन अवार्ड विनिंग आर्टिटेक्चर हफीज कांट्रेक्टर ने तैयार की है. इसके पांचवी मंजिल पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का कमरा होगा.