नई दिल्ली: 12 मई को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के साथ शादी के बंधन में बंधी ऐश्वर्या राय 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक लालू यादव की नई बहू राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के टिकट पर छपरा से चुनाव लड़ सकती हैं. हालांकि बताया जा रहा है कि अंतिम निर्णय आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार को लेना है. खुद RJD विधायक राहुल तिवारी ने भी बयान दिया है कि क्षेत्र की जनता में भी इस बात की चर्चा है कि ऐश्वर्या राय राजनीति में एंट्री कर सकती हैं.

इस बात की भी चर्चा
इस बात की चर्चा पहले से भी थी कि ऐश्वर्या राय राजनीति में आ सकती हैं. राबड़ी देवी खुद नेता प्रतिपक्ष हैं और हाल में ही एमएलसी बनी हैं, तो वहीं मीसा भारती पाटलीपुत्र से लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही हैं. तेजस्वी यादव ने पहले से ही पूरे बिहार की राजद की और विधायकों की कमान संभाल रखी है.ऐसे में छपरा से तेजप्रताप यादव या ऐश्वर्या राय खड़ी हो सकती हैं लेकिन छपरा गृहनगर होने के कारण ऐश्वर्या राय के चुनाव लड़ने की संभावना अधिक जताई जा रही है.

नोटबंदी को लेकर नीतीश कुमार ने सुनाई खरी-खरी

जेडीयू ने साधा निशाना
इस तरह की रिपोर्ट आने के बाद जेडीयू ने आरजेडी पर निशाना साधा है. जेडीयू नेता नीरज कुमार का कहना है कि आरजेडी के कार्यकर्ता केवल ढोल बजाने के लिए हैं टिकट तो केवल लालू के परिवार के सदस्यों को मिलेगा. उन्होंने कहा कि लालू का परिवार कभी भी परिवारवाद की राजनीति से ऊपर नहीं उठ पाएगा. गौरतलब है कि 12 मई को बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव की शादी ऐश्वर्या राय से हुई थी.

कौन हैं ऐश्वर्या राय
ऐश्वर्या चंद्रिका राय की सबसे बड़ी पुत्री हैं. उनकी स्कूली शिक्षा पटना में हुई है और उच्च शिक्षा दिल्ली में हुई है. तेज प्रताप की होने वाली दुल्हनिया को घर में लोग झिप्सी के नाम से पुकारते हैं. क्योंकि जिस दिन ऐश्वर्या पैदा हुई उस दिन बारिश हो रही थी.

पीएम मोदी ने देश को समर्पित किए दो स्मार्ट हाईवे, कहा- उनके लिए परिवार ही देश, मेरे लिए देश ही परिवार

दोनों बेटे रह चुके हैं मंत्री
गौरतलब है कि गठबंधन सरकार में लालू यादव के दोनों बेटे तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव सरकार में मंत्री रह चुके हैं. चारा घोटाल में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव का इस समय मुंबई के अस्पताल में इलाज चल रहा है.उनके परिवार से जुड़े करीबी सूत्रों ने बताया कि कुछ साल पहले यादव की बायपास सर्जरी हुई थी. उन्होंनें इस संस्थान के हृदय रोग के प्रसिद्ध डॉक्टर रामाकांत पांडा से इलाज के लिए समय मांगा था.

लालू का चल रहा है इलाज
चारा घोटाला मामले में दोषी करार दिए गए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री को झारखंड उच्च न्यायालय ने छह सप्ताह की जमानत दी है. पांच डॉक्टरों की एक टीम को उनके इलाज के लिए तैयार किया गया है. यादव पिछले साल दोषी करार दिए जाने के बाद 23 दिसंबर से जेल में थे.