नई दिल्लीः निर्भया गैंगरेप और मर्डर मामले में सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह का एक बड़ा बयान आया है. इंदिरा ने निर्भया की मा से अनुरोध किया है कि वह अब आरोपियों को मांफ कर दें. उन्होंने कहा कि आशा देवी के दर्द को हम समझते हैं लेकिन उन्हें सोनिया गांधी को अनुसरण करना चाहिए. जिस तरह से सोनिया गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के मामले में दोषी नलिनी को माफ किया था ठीक उसी प्रकार उन्हें भी निर्भया के दोषियों को अब माफ कर देना चाहिए. Also Read - Supreme Court On Rape Case: नाबालिग लड़की से Rape के आरोपी से सुप्रीम कोर्ट ने पूछा, क्या पीड़िता से करोगे शादी? जानें पूरा मामला..

बता दें कि इंदिरा जयसिंह का बयान ऐसे समय में आया है जब निर्भया के आरोपियों को कोर्ट की तरफ से मौत की सजा मिल चुकी है. इंदिरा ने ट्वीट करके कहा कि मैं ही नहीं पूरा देश निर्भया की मां का दर्द समझता है लेकिन उन्हें सोनिया गांधी की तरह मिसाल पेश करना चाहिए. जिस तरह ने इंदिरा गांधी ने राजीव गांधी की हत्या में दोषी नलिनी को माफ कर दिया था उसी प्रकार आशा देवी को भी कदम उठाना चाहिए. इंदिरा ने कहा कि हम आपके साथ हैं लेकिन हम मृत्युदंड के खिलाफ हैं. Also Read - Mafia Mukhtar Ansari को UP लाने पर जोरदार तकरार, मुकुल रोहतगी ने कहा-उसे CM ही बना दो


दरअसल निर्भया के दोषियों की फांसी टल रही है. इस पर पीड़ित मां ने आपत्ति जताई थी और निराशा जाहिर की थी. इसके बाद वरिष्ठ वकील ने उनसे दोषियों को माफ कर देने की अपील के लिए ट्वीट का सहारा लिया. निर्भया के दोषियों को एक फरवरी को फांसी पर लटकाने का डेथ वारंट जारी हो चुका है. इस बीच एक दोषी पवन भी सुप्रीम कोर्ट में याचिका लेकर पहुंच गया है. इससे पहले फांसी टलने पर निर्भया की मां ने कहा था, वही हो रहा है जो दोषी चाहते हैं. तारीख पर तारीख दी जा रही है.