कोलकाता: पश्चिम बंगाल भाजपा ने राज्य में हाल ही में की गईं अपने कार्यकर्ताओं की कथित हत्याओं के खिलाफ शनिवार को यहां धरना दिया. भाजपा ने दावा किया बीते एक सप्ताह के भीतर बंगाल में उसके आठ कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई. इनमें मुर्शिदाबाद के एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या शामिल नहीं है. Also Read - बंगाल में भाजपा के सत्ता में आने के बाद गोरखा समस्या का समाधान हो जाएगा: अमित शाह

मुर्शिदाबाद के जियागंज में स्कूली शिक्षक बंधू प्रकाश पाल, उनकी पत्नी और नाबालिग बेटी की उनके घर में हत्या कर दी गई. दावा किया गया है कि वह भाजपा-आरएसएस के समर्थक थे. पश्चिम बंगाल पुलिस ने कहा कि इन तीनों की हत्या निजी रंजिश की वजह से की गई और राजनीति से इसका कोई संबंध नहीं है. Also Read - WB Assembly Electons 2021: ममता बनर्जी के बाद अब भाजपा नेता राहुल सिन्हा पर EC का एक्शन, लगाना 48 घंटे का बैन

पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने पत्रकारों से कहा, बंगाल में हर दिन भाजपा के एक न एक कार्यकर्ता की हत्या की जा रही है. तृणमूल कांग्रेस सरकार जनता से संपर्क पूरी तरह खो चुकी है और अब आंतकी हथकंडों का इस्तेमाल कर शासन करने की कोशिश कर रही है, लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे. हम इस सरकार को उखाड़ फेंकने तक लड़ाई लड़ेंगे. Also Read - ममता बनर्जी का चुनाव आयोग से अनुरोध, 'केवल बीजेपी की ही नहीं, सभी की सुनें'; लगाया पक्षपात का आरोप

पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि भाजपा ने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पश्चिम बंगाल की पूरी तरह से ठप्प कानून व्यवस्था से अवगत कराने के लिए उनसे समय मांगा है.

(इनपुट-भाषा)