श्रीनगर: दक्षिण कश्मीर में जारी उग्रवाद रोधी अभियानों और हाल में कुलगाम में एक नागरिक के मारे जाने की घटना के विरोध में अलगाववादियों के आह्वान पर की जा रही हड़ताल की वजह से कश्मीर घाटी में सोमवार को जनजीवन प्रभावित रहा.

अधिकारियों ने बताया कि जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी में ज्यादातर दुकानें, पेट्रोल पंप तथा अन्य कारोबारी प्रतिष्ठान बंद रहे. उन्होंने बताया कि सड़कों पर सार्वजनिक वाहन नजर नहीं आए. शहर के ज्यादातर हिस्सों में निजी वाहन, कैब और ऑटो रिक्शा चलते देखे गए. शहर में निजी शिक्षण संस्थान भी बंद रहे. अधिकारियों के अनुसार, घाटी में अन्य जिला मुख्यालयों से भी ऐसी ही खबरें मिली हैं. दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में एक मुठभेड़ में पांच आतंकवादियों के मारे जाने के बाद हुई झड़पों के दौरान सुरक्षा बलों की कार्रवाई में रऊफ अहमद नाम का एक व्यक्ति मारा गया था.

रक्षा मंत्री सीतारमण का बड़ा बयान, चीन से लगी सीमा पर भारत अपने सैनिकोंं की संख्या कम नहीं कर रहा

क्षेत्र में धारा 144 लागू
इस घटना के विरोध में अलगाववादियों ने शनिवार को लोगों से आज हड़ताल करने को कहा था. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन ने नौहट्टा पुलिस थाना क्षेत्र में धारा 144 लागू कर दी है. साथ ही संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा बल भी तैनात किए गए हैं. (इनपुट एजेंसी)