श्रीनगर. जम्मू कश्मीर (Jammu-Kashmir) के शहरी स्थानीय निकाय चुनाव (local body election) के लिए बुधवार को होने वाले दूसरे चरण में 1,000 से अधिक प्रत्याशी मैदान में होंगे. अधिकारियों ने बताया कि चार चरण में होने वाले मतदान का पहला चरण आठ अक्टूबर को हुआ और अंतिम चरण का मतदान 16 अक्टूबर को होगा. सोमवार को हुए पहले चरण के मतदान में आतंकवादी समूहों की धमकियों के कारण अधिकतर लोग कश्मीर घाटी में मतदान केन्द्रों से दूर रहे. यहां महज 8.3 प्रतिशत मतदान हुआ जबकि राज्य के जम्मू और लद्दाख क्षेत्र में 65 प्रतिशत मतदान हुआ.

चार चरण में होने वाले शहरी स्थानीय निकायों के चुनाव में सोमवार को हुआ मतदान बड़े पैमाने पर शांतिपूर्ण रहा. इसका मुख्य क्षेत्रीय पार्टी नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने बहिष्कार किया था. अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि दूसरे चरण का मतदान सुचारू रूप से कराने के लिए सुरक्षा के पर्याप्त प्रबंध किए गए हैं. यहां पर सुबह छह बजे से शाम चार बजे तक मतदान होगा. अधिकारियों ने बताया कि दूसरे चरण में पूरे राज्य के 13 जिलों के 384 वार्डों में मतदान होगा. इन 13 जिलों में से सात घाटी के हैं. इन वार्डों के लिए 1,198 नामांकन दायर हुए थे. नामांकन पत्रों की जांच और नाम वापस लेने के बाद 1,095 प्रत्याशी मैदान में बचे हैं. 1,095 प्रत्याशियों में से 65 निर्विरोध चुनाव जीत गये हैं जिसमें से 61 कश्मीर घाटी के हैं. उन्होंने बताया कि घाटी के 70 वार्डों में मतदान नहीं होगा, क्योंकि यहां कोई नामांकन पत्र दाखिल नहीं हुआ है.

(इनपुट – एजेंसी)