नई दिल्ली: देश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने तीसरे चरण के लॉकडाउन की भी घोषणा कर दी है. गृह मंत्रालय ने बताया है कि चार मई से अगले दो हफ्तों तक लॉकडाउन प्रभावी रहेगा. मंत्रालय ने कहा है कि कोविड 19 को लेकर देश में हालात की समीक्षा के बाद यह अहम फैसला किया गया है. लॉकडाउन के तीसरे चरण के लिए नई गाइडलाइंस जारी की गई है. इस नई गाइडलाइंस में रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन में बांटे जिलों में होने वाली गतिविधियों को लेकर सूचना दी गई है. ग्रीन और ऑरेंज जोन वाले जिलों को लॉकडाउन के दौरान कुछ रियायतें भी मिलेंगी. ग्रीन जोन में वे जिले रखे जाएंगे, जहां पिछले 21 दिनों से कोई नया केस नहीं मिलेगा. Also Read - Lockdown 5.0: महाराष्ट्र सरकार ने लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया, पूरे राज्य में बंद रहेंगे धार्मिक स्थल, शॉपिंग मॉल

यहां खुलेंगी शराब की दुकानें
इस बार बढ़ाए गए लॉकडाउन में कई रियायतें भी दी गई है. इनमें शराब की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है. गृह मंत्रालय के मुताबिक लॉकडाउन 3.0 में ग्रीन जोन में शराब की अनुमति दी गई है. इसके साथ ही पान मसाला, गुटखा और तम्बाकू को बेचने की इजाजत भी दी गई है. वैसे बता दें कि कंटेन्मेंट जोन में पहले की ही तरह शराब से लेकर अन्य सभी सामानों की बिक्री पर पाबंदी रहेगी. इसके अलावा शराब आदि की बिक्री सिर्फ दुकानों पर ही की जा सकेगी. Also Read - यूपी में 8 जून से खोले जाएंगे धार्मिक स्थल, होटल, रेस्तरां और शॉपिंग मॉल; जुलाई में खुलेंगे स्कूल

लॉकडाउन के दौरान रेड और ऑरेंज जोन में शराब की दुकानें को छूट नहीं दी जाएगी. लेकिन ग्रीन जोन में शराब और पान की दुकानों को खोलने की अनुमति होगी. यहां पर लोगों को एक दूसरे से करीब 6 फिट की दूरी रखनी होगी. साथ ही एक शराब की दुकान में एक बार में पांच से ज्यादा लोग खड़े नहीं रह पाएंगे. Also Read - बिहार में 30 जून तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, केंद्र के दिशानिर्देश को लागू करेगी सरकार

फिलहाल दिल्ली में नहीं मिलेगी शराब!
देश में लागू लॉकडाउन के दूसरे चरण के समाप्त होने से पहले केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने देशभर में 130 जिलों को रेड जोन, 284 को ऑरेंज जोन और 319 को ग्रीन जोन घोषित किया है. इस नए वर्गीकरण में मुम्बई, दिल्ली, कोलकाता, हैदराबाद, पुणे, बेंगलुरु और अहमदाबाद जैसे महानगर शहरों को रेड जोन में रखा गया है.