देश में लॉकडाउन 4.0 के लागू होने के बाद दिल्ली सरकार ने अपना दिशानिर्देश जारी कर दिया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर इस बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ हमने पिछले करीब पौने दो माह के समय में उचित तैयारी कर ली है और लंबे समय तक अब लॉकडाउन में नहीं रहा जा सकता है. Also Read - Covid-19: सीएम केजरीवाल ने लॉन्च किया मोबाइल ऐप, अब एक क्लिक में पाएं अस्पतालों की जानकारी

इसी क्रम में उन्होंने दिल्ली के धीरे-धीरे खोलने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि दिल्ली के बाजार खुल जाएंगे. लेकिन इन्हें कुछ शर्तों का पालन करना होगा. इसी क्रम में उन्होंने कहा कि ये दुकाने ऑड-ईवेन के हिसाब से खुलेंगी. उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली के सभी सरकारी और निजी दफ्तर खोल दिए जाएंगे. Also Read - दिल्ली के सभी बॉर्डर सील, एंट्री के लिए आपके पास होना चाहिए यह पास


साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह निजी कंपनी से अपील करना चाहते हैं कि वे अभी ज्यादा से ज्यादा घर से काम को ही प्रोत्साहित करें.

उन्होंने दिल्ली में रिक्शा चलाने, बस चलाने, टैक्सी चलाने, ग्रामीण सेवा चलाने, ऑटो चलाने सहित सार्वजनिक परिवहन के सभी साधनों के खोलने की घोषणा की. वैसे मेट्रो सेवा पहले की तरह बंद रहेगी. इस पर केंद्र सरकार ने ही 31 मई तक रोक लगा दी है.

केजरीवाल ने कहा कि पिछले करीब पौने दो माह में हमने काफी मेहनत की है. दिल्ली के लोगों ने काफी तपस्या की है. अब अर्थव्यवस्था को धीरे-धीरे खोलने की जरूरत है. उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली में कंस्ट्रक्शन का काम शुरू किया जाएगा, लेकिन इसमें केवल दिल्ली में रहने वाले मजदूर ही काम कर पाएंगे.