नई दिल्लीः कोरोना वायरस (Coronavirus) के वजह से इन दिनों सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर के करीब 200 देश समस्याओं का सामना कर रहे हैं. कोरोना के प्रकोप को फैलने से रोकने के लिए देश में बीते 24 मार्च से लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. लॉकडाउन का तीसरा चरण आज (17 मई) से खत्म हो रही है और 18 मई से लॉकडाउन 4.0 शुरू हो रहा है, जो एक दम नया और अलग होगा.Also Read - Man Ki Baat: अमेरिका से लौटे पीएम मोदी, मन की बात में दी नसीहत-त्योहारों में खास सतर्कता है जरूरी

लोगों को लॉकडाउन 4 में कई छूटें मिलने की आस है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने देश को संबोधित करते हुए बताया था कि लॉकडाउन 4 में कई तरह के बदलाव और छूट दिए जाएंगे. Also Read - UNGA के 76वें सत्र को आज संबोधित करेंगे पीएम मोदी, वंदे मातरम-भारत माता की जय से गूंजा न्यूयॉर्क, देखें वीडियो

लॉकडाउन 4 के शुरू होने से पहले कुछ ऐसे जिले, जिनमें कोरोना के सबसे अधिक मामले हैं उनकी लिस्ट सामने आई है. माना जा रहा है कि, लॉकडाउन के बीच ऐसे शहर जहां संक्रमण के सबसे अधिक मामले सामने आए हैं, ऐसे शहरों को लॉकडाउन 4 के तहत मिलने वाली छूटों में किसी तरह का लाभ नहीं मिलेगा. ये वह जिले हैं, जिनमें कोरोना पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या 80 फीसदी या उससे अधिक है. इन जिलों में कौन-कौन से जिले शामिल हैं आइए बताते हैं आपको- Also Read - BJP ने गठबंधन का ऐलान किया, अपना दल और निषाद पार्टी के साथ मिलकर UP विधानसभा का चुनाव लड़ेगी

जिन जिलों में कोरोना के सबसे अधिक मामले सामने आए हैं, उन्हें लॉकडाउन 4 में छूट का कोई लाभ नहीं मिलेगा. इन शहरों में महाराष्ट्र की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई, पुणे, नाशिक, सोलापुर, औरंगाबाद, पालघर, थाने, मध्य प्रदेश के इंदौर, भोपाल, जबलपुर, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, ग्रेटर चेन्नई, गुजरात के अहमदाबाद, वडोदरा कोलकाता, राजस्थान की राजधानी जयपुर, जोधपुर, उदयपुर उत्तर प्रदेश का आगरा, मेरठ शामिल हैं.

इसके अलावा ग्रेटर चेन्नई, कोलकाता, हावड़ा, तिरुवल्लुवर, ग्रेटर हैदराबाद, चेंगलपट्टू, अरियालुर, कुर्नूल, अमृतसर, विल्लुपुरम, बरहमपुर, गौतमबुद्ध नगर, बेंगलुरू, में भी लॉकडाउन 4.0 में किसी भी तरह की छूट मिलने की संभावना नहीं है. मिली जानकारी के मुताबिक, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने लॉकडाउन 4 में दी जाने वाली छूटों को लेकर इन इलाकों के म्युनिसिपल कमिश्नर और DM से चर्चा की है.