Lockdown 5.0: देश में जारी Lockdown 4.0 जल्द ही खत्म होने वाला है. 31 मई के बाद क्या होगा, अब लोगों के सामने यह प्रश्न भी आने लगा है. क्या लॉकडाउन बढ़ाया जाएगा या फिर अब यह खत्म होगा? अगर बढ़ाया गया तो किन नियमों के पालन करने होंगे और किन नियमों में छूट दी जाएगी. देश में पहली बार 25 मार्च को लॉकडाउन लागू किया गया था. इसके बाद से लगातार यह चौथे चरण तक पहुंच चुका है. इस बीच अब Lockdown 5.0 को लेकर लोगों के मन में कई सवाल हैं. खबरों की मानें तो एक बार फिर लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जा सकती है. आशंका जताई जा रही हैं कि यह फाइनल और आखिरी लॉकडाउन हो सकता है. बता दें कि इस बाबत केंद्र सरकार ने काम करना शुरू भी कर दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) 31 मई रविवार के दिन देश को संबोधित कर सकते हैं. पीएम ‘मन की बात (Mann Ki Baat)’ में लॉकडाउन को बढ़ाने व इसके पांचवें चरण की शुरुआत की घोषणा भी कर सकते हैं.Also Read - Coronavirus cases In India: कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामले हुए बेहद कम, 13,058 लोग हुए संक्रमित

Lockdown 5.0 की गाइडलाइन्स? Also Read - Coronavirus cases In India: कोरोना संक्रमण के दैनिक मामले पहुंचे 13,596, एक्टिव मामले हुए 2 लाख से कम

1- राज्य सरकारों के पास यह अधिकार होगा कि राज्य में किन चीजों पर छूट मिलेगी और किन चीजों पर नहीं. कोरोना वायरस के मामलों के मद्देनजर राज्य सरकारें विभिन्न पाबंदियों में ढील देने या न देने का निर्णय कर सकती हैं. Also Read - Mumbai Coronavirus Update: मुंबई में 20 महीनों में पहली बार कोविड से कोई मौत नहीं, पूरे महाराष्ट्र में 1715 नए मामले सामने आए

2- कंटेन्मेंट जोन यानी रेड जोन में या सील किए गए इलाकों में किसी प्रकार की एक्टिविटी या आवाजाही अब भी बाधित रहने की उम्मीद है.

3- देश में बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों के बाद केंद्र सरकार कुछ नए नियमों को लागू कर सकती हैं. कुछ चीजों पर प्रतिबंध भी लगाई जा सकती है.

4- स्कूलों को फिलहाल खोले जाने के आसार नहीं हैं.  अन्य शैक्षणिक संस्थानों पर भी यह पाबंदी जारी रह सकती है.

5- शॉपिंग मॉल्स को लेकर भी राज्य सरकार व स्थानीय प्रशासन को ही फैसला करना होगा. Lockdown 4.0 में शॉपिंग मॉल्स के खोलने पर रोक लगाई गई थी. लेकिन अब कयास लगाए जा रहे हैं कि कुछ राज्य सरकारें अपने यहां चुनिंदा इलाकों में शॉपिंग मॉल्स खोलने की इजाजत दे सकती हैं.

6- रेलवे यात्रा और घरेलू उड़ान जारी रहेंगे. दिल्ली मेट्रों की सेवा भी कुछ हद तक 1 जून के बाद शुरू की जा सकती है.

7- लॉकडाउन 5.0 का सबसे ज्यादा असर बड़े शहरों यानी दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरू, पुणे, थाणे, इंदौर, चेन्नई, अहमदाबाद, जयपुर, सूरत और कोलकाता में देखने को मिलेगा. क्योंकि इन सभी शहरों में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार तेजी देखने को मिल रही है.

8- Lockdown 5.0 में किसी भी धार्मिक स्थान के खोले जाने पर संशय बना हुआ है. धार्मिक स्थानों पर लोगों के जमा होने पर रोक रहेगी. लेकिन इसका फैसला करने का अधिकार भी केंद्र,  राज्य सरकारों को दे सकती है. बता दें कि कर्नाटक सरकार ने बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर सिफारिश की थी कि धार्मिक स्थानों को खोला जाए.

9- देश में रेस्तरां व खाने पीने के स्थानों जहां लोग जुटते हैं, इनके खोले जाने पर अभी विचार किया जा रहा है. लेकिन इस बाबत भी चर्चा है कि यह फैसला करने का अधिकार भी राज्य सरकार को दे दिया जाएगा.

10- अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर Lockdown 5.0 में प्रतिबंध जारी रहने की उम्मीद है.

बता दें कि देश में कोरोना वायरस से अबतक 4,337 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं संक्रमितों की संख्या में लगातार तेजी देखने को मिल रही है. देश में अबतक 1,52,767 कोरोना वायरस के मामले सामने आ चुके है. वहीं पिछले 24 घंटे में 170 लोगों की देशभर में संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है.