PM Modi is not in favour to reimpose lockdown: देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहा हैं. सोमवार को यह आंकड़ा 3.32 लाख को पार कर गया. अब तक इससे नौ हजार से अधिक लोगों की मौत भी हो चुकी है. इस बीच ऐसी भी रिपोर्ट आने लगी है कि कोरोना की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए सरकार फिर से लॉकडाउन लगाने जा रही है. हालांकि सरकार ने अभी तक आधिकारिक तौर पर लॉकडाउन को लेकर कुछ नहीं कहा है. कई मंत्रियों ने फिर से लॉकडाउन की संभावना से इनकार किया है.. Also Read - वैज्ञानिकों ने खोजा कोरोना से जुड़ी गंभीर बीमारियों से बच्चों को बचाने का रहस्य, जानिए क्या है इनका दावा  

अंग्रेजी अखबार इकोनॉमिक टाइम्स ने संभावित लॉकडाउन को लेकर एक रिपोर्ट छापी है. इसमें दावा किया गया है कि पीएम मोदी की फिर से लॉकडाउन लागू करने की कोई योजना नहीं है. अखबार ने एक बेहद भरोसेमंद सूत्र के हवाले से लिखा है कि पीएम मोदी कोरोना पर काबू पाने के लिए पूरे देश में फिर से लॉकडाउन लगाने के पक्ष में नहीं हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि पीएम मोदी कल और परसों देश के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ प्रस्तावित बातचीत में इस बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे. Also Read - भारत आज भी दुनिया की सबसे खुली अर्थव्यवस्थाओं में से एक: पीएम मोदी

रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत में पीएम मोदी उनसे कोरोना के खिलाफ जंग में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतने की बात कहेंगे. इसके अलावे पीएम मोदी उनसे गहन डोर टू डोर स्क्रीनिंग अभियान चलाने और सोशल डिस्टेंसिंग की कड़ाई से पालन करने की बात कहेंगे. Also Read - कोरोना महामारी के बीच फिल्म निर्माता बना रहे हैं ये प्लान, तापसी पन्नू की आगामी फिल्म से हो सकती है शुरुआत