नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज लॉकडाउन की समय सीमा को बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया है. लोगों का मानना था कि यह समय सीमा 30 अप्रैल तक शायद बढ़ाई जाएगी. इससे पहले लॉकडाउन 14 अप्रैल तक था, जिसे आज खत्म होना था लेकिन कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक किया है. हालांकि इस बीच लोगों के दिमाग में यह सवाल भी आना वाजिब है कि आखिर लॉकडाउन 19 दिन तक क्यों बढ़ाया गया. लेकिन क्या आपको पता है कि मई तक लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने के पीछे एक ठोस वजह भी है. Also Read - श्रमिक स्‍पेशन ट्रेनों में यात्रा करते हुए 97 लोगों की जान गई: संसद में सरकार का जवाब

केंद्र सरकार के सूत्रों की मानें तो इससे पहले लॉकडाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाया जाना था. फिर बाद में इस पर जब विचार किया गया तो 1 मई को मजदूर दिवस, 2 मई को शनिवार और 3 मई को रविवार के दिन की बात सामने आई. ऐसे में सरकार की तरफ से इस लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया गया. Also Read - Himachal Pradesh School reopen: हिमाचल में सोमवार से कक्षा 9-12वीं तक के स्कूल फिर से खुलेंगे

लोगों के दिमाग में एक सवाल यह भी है कि आखिर 19 दिन के लॉकडाउन से क्या फायदा होना है, तो आपको बता दें कि कोरोना से संक्रमित होने के बाद लोगों में कोरोना का असर दिखने में एक से दो हफ्ते का समय लगता है. ऐसे में अगर सरकार व प्रशासन को 19 दिन तक का समय मिल जाता है तो लोगों में कोरोना के लक्ष्णों के पहचान, इलाज व रोकथाम में इससे काफी सहायता मिलेगी.