नई दिल्‍ली: दिल्‍ली में अब लॉकडाउन बढ़ाया नहीं जाएगा. यह बात दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने शुक्रवार को तब कही, जब उनसे पूछा गया कि क्या राष्ट्रीय राजधानी में लॉकडाउन का विस्तार करने पर चर्चा हुई है. वहीं, दिल्ली हाईकोर्ट ने भी 30 जून तक लॉकडाउन लगाने की मांग करने वाली जनहित याचिकाओं को खारिज कर दिया है. Also Read - बिहार: कोरोना मरीजों की संख्या 12 हजार पार, अब तक 97 मौतें, 24 घंटे में मिले 280 मरीज

मीडियाकर्मियों के द्वारा दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने यह पूछे जाने पर कि क्या राष्ट्रीय राजधानी में लॉकडाउन का विस्तार करने पर चर्चा हुई है, तो उन्‍होंने जबाव में कहा, नहीं, लॉकडाउन का विस्‍तार नहीं होगा. वहीं, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने दिल्‍ली में एमसीडी के कोरोना से मौतों के अधिक मामले होने के दावे पर कहा, क्‍यों नहीं वो हमें डिटेल भजते हैं? नाम, उम्र और रिपोर्ट्स…सभी विवरण की जरूरत है. उन्‍हें कहिए कोरोना वायरस पॉजिटिव होने की उन लोगों की रिपोर्ट्स की एक लिस्‍ट दें. Also Read - कोरोना: महाराष्ट्र के इस जिले में 10 से 18 जुलाई तक लागू होगा सख्त लॉकडाउन, जानें डिटेल

बता दें कि गुरुवार को दिल्ली के भाजपा शासित नगर निगमों के वरिष्ठ नेताओं ने गुरुवार को दावा किया था कि यहांकोविड-19 से 2000 से अधिक लोगों की मौत हुई है, जबकि आधिकारिक आंकड़ा बुधवार तक 984 था. सिविक सेंटर में गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन में उत्तरी दिल्ली के महापौर अवतार सिंह, पूर्वी दिल्ली की महापौर अंजू कमलकांत और एनडीएमसी, एसडीएमसी और ईडीएमसी की स्थायी समितियों के अध्यक्षों ने इस कोरोना वायरस महामारी के वक्त निगमों के समक्ष उत्पन्न चुनौतियां मीडिया से साझा की थीं.

एनडीएमसी की स्थायी समिति के अध्यक्ष जय प्रकाश ने संवाददाता सम्मेलन में कहा था, पहले केजरीवाल सरकार ने कम मौत बतायी थी, लेकिन श्मशान घाटों और कब्रगाहों से जुटाए गए हमारे आंकड़े ने आधिकारिक आंकड़े से करीब तीन गुणा अधिक मौत दर्शाई. अब इन आंकडों के हिसाब से दिल्ली में कोविड-19 से 2098 मौत हुई है, जिनमें एसडीएमसी में 1080, एनडीएमसी में 976 और ईडीएमसी में 42 मरीजों ने जान गंवाईं है.”