नई दिल्लीः कोरोना वायरस के चलते लागू लॉकडाउन (Corona Virus Lockdown) के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार रात 8 बजे राष्ट्र को संबोधित किया, जिसमें पीएम मोदी देश में लॉकडाउन 4 (Lockdown 4) की घोषणा की. अपने 5वे राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम ने 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की. जो कि भारत की GDP का करीब 10 प्रतिशत है.Also Read - बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने कहा, मोदीजी, 15 दिन के लिए जम्मू-कश्मीर बिहारियों को सौंप दीजिए, फिर देखिए

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि यह आर्थिक पैकेज देश के कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, लघु और मंझोले उद्योग, MSME के लिए है, जो कि करोड़ों भारतीयों की आजीविका का साधन है, जो आत्मनिर्भर भारत के हमारे संकल्प का मजबूत आधार है. Also Read - Coronavirus cases In India: कोरोना संक्रमण के दैनिक मामले पहुंचे 13,596, एक्टिव मामले हुए 2 लाख से कम

अंदाजा लगाया जा रहा है कि लॉकडाउन 4.0 में कई तरह के बदलाव देखने को मिल सकते हैं. लॉकडाउन 4 में छूट का दायरा और भी बढ़ सकता है. क्योंकि, लॉकडाउन 3 में भी ग्रीन जोन, ऑरेंज जोन और रेड जोन के आधार पर कुछ छूट दी गई थीं. Also Read - Mumbai Coronavirus Update: मुंबई में 20 महीनों में पहली बार कोविड से कोई मौत नहीं, पूरे महाराष्ट्र में 1715 नए मामले सामने आए

ऐसे में लॉकडाउन 4 में भी कई छूट मिलने की संभावना जताई जा रही है. हालांकि, पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा है कि, इसकी घोषणा 18 मई को की जाएगी, कि लॉकडाउन 4 में किन-किन नियमों में बदलाव को अमल में लाया जाएगा.

संभावना है कि लॉकडाउन 4 में शॉपिंग मॉल, बंद पड़े स्कूल-कॉलेज, होटल रेस्टोरेंट, पर्यटन और परिवहन को लेकर भी फैसला लिया जा सकता है. हालांकि, कहां छूट दी जानी है और कहां नहीं इसका फैसला जोन के हिसाब से होने की संभावना है.

गौरतलब है कि इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बात की थी, जिसमें उन्होंने लॉकडाउन को लेकर सुझाव भी मांगे थे.