नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को कर्नाटक के कलबुर्गी और तमिलनाडु के कांचीपुरम में एनडीए की मेगा रैली को संबोधित करेंगे. यह मेगा रैली सत्तारूढ़ ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) से गठबंधन के बाद हो रही है. पीएमके नेताओं डॉ. एस रामदास और उनके बेटे अंबुमणि भी रैली में मौजूद रहेंगे. पीएम नई परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन भी करेंगे.

प्रधानमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार, कर्नाटक के कलबुर्गी दौरे के दौरान प्रधानमंत्री राज्य की जनता को लाभ पहुंचाने के लिए ऊर्जा, स्‍वास्‍थ्‍य और शिक्षा जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों की विकास परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे. इस दौरान कर्नाटक में स्‍वास्‍थ्‍य सेवा के क्षेत्र को व्‍यापक प्रोत्‍साहन देते हुए प्रधानमंत्री ईएसआईसी हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज, बेंगलुरु राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे. वे हुबली में एक अस्पताल के सुपर स्‍पेशिएलिटी ब्‍लॉक को भी राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे.

प्रधानमंत्री बीपीसीएल डिपो के रायचूर से कलबुर्गी तक योजना का शिलान्‍यास करेंगे. इसके अलावा वे बेंगलुरु में आयकर न्‍यायाधिकरण टर्मिनल भी राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे. वे बेंगलोर यूनिवर्सिटी में पूर्वोत्‍तर क्षेत्र की छात्राओं के लिए महिला छात्रावास को भी समर्पित करेंगे. प्रधानमंत्री कलबुर्गी में आयुष्‍मान भारत के लाभार्थियों के साथ भी बातचीत करेंगे. तमिलनाडु के कांचीपुरम में प्रधानमंत्री सड़क, रेलवे और ऊर्जा क्षेत्र की विविध परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे. ये परियोजनाएं सड़क एवं रेलवे से संबंधित राज्‍य की बुनियादी सुविधाओं को मजबूती प्रदान करेंगी.

इनमें तमिलनाडु की राजमार्ग अवसंरचना को व्‍यापक प्रोत्‍साहन देते हुए राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-45सी के विक्रवंदी-सेतियातोप्‍पु खंड, सेतियातोप्‍पु-चोलापुरम खंड और चोलापुरम- तंजावुर खंड को चार लेन का बनाने की आधारशिला रखेंगे. वे राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-4 के करिपेट्टई-वालजापेट खंड को छह लेन का बनाने की भी आधारशिला रखेंगे. प्रधानमंत्री राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या -234 को मजबूत बनाने के लिए, वाहन मार्ग और पुलियों के चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण की आधारशिला रखेंगे. वह राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-381 के चार लेन के अविनाशी-तिरुपुर-अविनाशीपलयम खंड और सुदृढ़ीकृत वाहन मार्ग को भी राष्ट्र को समर्पित करेंगे.

प्रधानमंत्री इरोड-करूर-तिरुचिरापल्ली और सलेम-करूर-डिंडीगुल रेलवे लाइनों के विद्युतीकरण को राष्ट्र को समर्पित करेंगे . इस विद्युतीकरण से ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन तथा लोगों के आने-जाने और माल की आवाजाही में लगने वाले समय में कमी आएगी. प्रधानमंत्री एन्नोर एलएनजी टर्मिनल राष्ट्र को समर्पित करेंगे . वे वीडियो लिंक के जरिए चेन्नई में डॉ. एमजीआर जानकी कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस फॉर वुमन में डॉ. एमजी रामचंद्रन की प्रतिमा का अनावरण करेंगे. प्रधानमंत्री कांचीपुरम में आयुष्मान भारत के लाभार्थियों के साथ भी बातचीत करेंगे.