नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) इस लोकसभा चुनाव में 275 सीटों के साथ बहुमत हासिल कर सकता है. यह आंकड़ा बहुमत के लिए जरूरी 272 सीटों से मात्र तीन अधिक है. इंडिया टीवी-सीएनएक्स के ताजा सर्वेक्षण के अनुसार, भाजपा की सीट संख्या 543 सदस्यीय लोकसभा में मौजूदा 282 से घटकर 230 हो सकती है, जो 272 से 42 कम है. यह सर्वेक्षण शरिवार को प्रसारित हुआ.

सर्वेक्षण में कहा गया है कि भाजपा को दिल्ली की सभी सात सीटों पर जीत हासिल हो सकती है. सर्वेक्षण में कहा गया है कि राजग 275 सीटें जीत सकता है, और कांग्रेस नेतृत्व वाले संप्रग को 147 सीटें मिल सकती हैं और अन्य को 121 सीटें हासिल हो सकती हैं, जिनमें सपा, बसपा, टीएमसी, टीआरएस, क्षेत्रीय पार्टियां और निर्दलीय शामिल होंगे. सर्वेक्षण के अनुसार, कांग्रेस की सीट संख्या 2014 के 44 से बढ़कर 97 हो सकती है.

Lok Sabha election 2019: पश्चिमी यूपी में BJP ने प्रचार में झोंकी ताकत, विपक्षी हैं सुस्त 

230 सीटें जीत सकती है भाजपा
सर्वेक्षण के अनुसार, राजग में भाजपा 230 सीटें, शिवसेना 13, एआईएडीएमके 10, जद (यू) नौ, अकाली दल दो, पीएमके दो, लोजपा तीन सीटें, और बाकी सीटें अन्य क्षेत्रीय और छोटी पार्टियां जीत सकती हैं. वहीं संप्रग में कांग्रेस 97 सीटें, डीएमके 16, राजद आठ, तेदेपा सात सीटें और बाकी अन्य क्षेत्रीय व छोटी पार्टियां जीत सकती है.

Lok Sabha Election 2019: यूपी में चुनाव से पहले गठबंधन को झटका, कई नेता BJP में शामिल

ममता बनर्जी की तृणमूल पार्टी को मिलेंगी 28 सीटें
सर्वेक्षण के अनुसार, ममता बनर्जी की तृणमूल 28 सीटें, समाजवादी पार्टी 15, मायावती की बसपा 14, वाईएसआर कांग्रेस 18, तेलंगाना राष्ट्र समिति 12, बीजू जनता दल 14, वाम मोर्चा आठ सीटें और बाकी अन्य क्षेत्रीय व छोटी पार्टियां जीत सकती हैं. सर्वेक्षण के अनुसार, लोकसभा चुनाव के साथ हो रहे विधानसभा चुनाव में सत्ताधारी बीजू जनता दल ओडिशा में सत्ता बरकरार रखेगी और वह कुल 147 सीटों में से 100 पर जीत दर्ज करने में सफल हो सकती है. आंध्र प्रदेश में विपक्षी वाईएसआर कांग्रेस सत्ता हासिल कर सकती है और वह 175 सदस्यीय विधानसभा में 100 सीटें जीत सकती है.

BSP सुप्रीमो मायावती का कांग्रेस पर हमला, ‘इनके वादों की तरह दिखावा व छलावा है घोषणापत्र’

ओडिशा में 31 सीटें जीतेगी भाजपा
सर्वेक्षण के अनुसार ओडिशा में भाजपा 31 सीटें और कांग्रेस नौ सीटें जीत सकती है. आंध्र प्रदेश में तेलुगू देशम पार्टी 45 सीटें जीतेगी, जबकि कांग्रेस चार और भाजपा तीन सीटें जीतेगी. यह सर्वेक्षण 24 और 31 मार्च के बीच सभी 543 लोकसभा सीटों से लिए गए 65,160 नमूनों के जरिए किया गया. सर्वेक्षण में शामिल प्रतिभागियों में 34,272 पुरुष और 30,888 महिलाएं शामिल थीं. इन सर्वेक्षणों का मकसद मतदाता समझ रहे हैं.

अरुणाचल में बोले पीएम नरेंद्र मोदी, ‘हम भलाई के लिए काम करते हैं और वो सिर्फ मलाई के लिए’