चेन्नई: द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) अध्यक्ष करुणानिधि की हालत अभी भी स्थिर बनी हुई है. पार्टी के प्रवक्ता ने बताया कि वह सामान्य हैं. टी.ते.एस एलनगोवन ने बताया कि रविवार रात को सांस लेने में थोड़ी तकलीफ के बाद करुणानिधि की हालत स्थिर है. कावेरी अस्पताल के डॉक्टर उनकी हालत पर नजर बनाए हुए हैं. उन्होंने कहा कि गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती 94 वर्षीय नेता अपने हाथ, पैर हिला रहे थे और उन्होंने अपनी आंखें भी खोली. अस्पताल के सूत्रों ने भी यह बात कही. Also Read - PM Kisan Samman Nidhi Scheme: सावधान! 33 लाख किसान मिले हैं फर्जी, तुरंत वापस कर दें पैसे, वरना...

Also Read - Elephant Death Viral Video: एक बार फिर जानवरों के साथ हैवानियत का मामला आया सामने, हाथी पर फेंका जलता हुआ टायर, हुई मौत

बिहार: नालंदा मेडिकल कॉलेज के वार्ड में घुसा पानी, ICU में तैरती दिखीं मछलियां Also Read - कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गईं शशिकला, विक्टोरिया हॉस्पिटल की गईं रिफर

पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रह चुके करुणानिधि को शनिवार को रात 1.30 बजे रक्तचाप में गिरावट की शिकायत के बाद अस्पताल भर्ती कराया गया था. उन्हें रविवार को सांस लेने में तकलीफ के बाद परिवार और द्रमुक कार्यकताओं में बेचैनी बढ़ गई. बाद में अस्पताल की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, द्रमुक नेता व तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री करुणानिधि की हालत थोड़ी देर के लिए ज्यादा बिगड़ गई थी. अस्पताल ने कहा, मेडिकल सहायता से अब वह सामान्य हैं. विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम उनकी हालत पर नजर बनाए रखेगी.

डीएमके प्रमुख करुणानिधि की तबियत में सुधार, अस्पताल के बाहर समर्थकों पर लाठीचार्ज

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलनीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने सोमवार को अस्पताल में करुणानिधि से मुलाकात की. पलनीस्वामी ने पत्रकारों से कहा कि करुणानिधि की हालत स्थिर है. पलनीस्वामी और पन्नीरसेल्वम ने आईसीयू में बीमार नेता से स्टालिन और एम. कनिमोझी के साथ मुलाकात की. भारत के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू बीमार द्रमुक अध्यक्ष एम. करुणानिधि का हालचाल जानने रविवार को कावेरी अस्पताल पहुंचे थे. द्रमुक ने एक बयान में कहा कि नायडू के साथ राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित भी थे. उन्होंने डॉक्टरों से बात की.

नायडू ने अस्पताल में करुणानिधि के बेटे और द्रमुक नेता एम.के. स्टालिन से भी मुलाकात की. शनिवार रात 94 वर्षीय नेता को शनिवार रात 1.30 बजे रक्तचाप में गिरावट के बाद अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती कराया गया था. इलाज के बाद उनका रक्तचाप स्थिर हो गया है.