पतंजलि संस्थान के प्रमुख और योग गुरु बाबा रामदेव ने मध्य प्रदेश में बड़े निवेश की इच्छा जाहिर की है, लेकिन राज्य के उद्योग विभाग द्वारा उपलब्ध कराई गई 45 एकड़ जमीन पर चुटकी लेते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि इतनी जमीन तो उनके लिए कबड्डी के मैदान के बराबर है। Also Read - Corona Guidelines for Navratri and Ramadan 2021: यूपी, बिहार से लेकर महाराष्ट्र तक, जानिए इन 6 राज्यों में नवरात्र और रमजान को लेकर क्या हैं नियम?

Also Read - Covid in MP Update: MP के सीएम ने की जनता से अपील, लॉकडाउन की बजाय, मास्‍क से चेहरा और पैर लॉक हो जाएं

मध्य प्रदेश के इंदौर में शनिवार से शुरू हुई दो दिवसीय ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट के उद्घाटन मौके पर बाबा रामदेव ने कहा, “दुनिया भर से भारत में 25 लाख करोड़ रुपये का आयात होता है। हमारे देश में यह सामर्थ्य है कि वह इससे ज्यादा निर्यात कर सकता है। भारत दुनिया का मैन्युफैक्चरिंग हब बन सकता है। मध्य प्रदेश में भी मैन्युफैक्चरिंग हब बनने की क्षमता है।” यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश: सहकारी दुकानों पर बेचे जाएंगे पतंजलि के उत्पाद Also Read - Lockdown in MP: मध्‍य प्रदेश में लॉकडाउन की फोटोज, आंकड़े दे रहे बड़ी चेतावनी

बाबा रामदेव ने कहा कि वह जड़ी बूटियों के क्षेत्र में काफी काम करना चाहते हैं और मध्य प्रदेश में भी बड़े निवेश को प्रयासरत हैं, पर राज्य के उद्योग विभाग ने तो हमें मात्र 45 एकड़ जमीन ही उपलब्ध कराई है।

इंदौर के ब्रिलियेंट कन्वेंशन सेंटर में शनिवार को दो दिवसीय ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट का उद्घाटन केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने किया। इस मौके पर केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद, इस्पात मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे।