भिंड: मध्य प्रदेश के भिंड जिले में एक घर में घुसकर महिला से छेड़छाड़ करने के आरोप में युवक को भीड़ ने पेड़ से बांधकर जमकर पीटा और बाद में पुलिस के सुपुर्द कर दिया. मिली जानकारी के अनुसार, भिंड जिले के गोरमी थाने के सिलोली गांव का एक युवक रात के अंधेरे में घर में घुस गया और महिला से छेड़छाड़ करने लगा.

दिल्ली अग्निकांड: मिलिए उस शख्स से, जिसने चोट लगने के बाद भी बचाई 11 लोगों की ज़िंदगी

युवक को महिला का पूर्व परिचित बताया जा रहा है. युवक को महिला के साथ कमरे में देख परिजनों ने उसे पकड़ा और फिर पेड़ से बांध दिया. भीड़ ने उसे लात-घूंसों और चप्पलों से पीटा. भीड़ ने बाद में युवक को पुलिस के हवाले कर दिया. ग्रामीणों का आरोप है कि युवक एक घर में घुसा था. पुलिस कार्रवाई कर रही है. युवक को पेड़ से बांधने और भीड़ द्वारा पीटे जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

‘पेट में दर्द है’ कहकर रोती थी 13 साल की लड़की, हॉस्पिटल लेकर गए परिजन तो हुआ रेप के बाद प्रेग्नेंसी का खुलासा

बता दें कि पिछले कुछ समय से देश के अलग अलग हिस्सों से रेप और महिलाओं के खिलाफ हिंसा के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. हैदराबाद में लेडी डॉक्टर से गैंगरेप के बाद आग लगाकर मारने की घटना हुई. इसके बाद पुलिस ने पकड़े जाने वाले चरों आरोपियों को एनकाउंटर में पुलिस ने मर दिया था. इसके बाद से ही बहस चल रही है कि इस तरह से न्याय ठीक है नहीं. एक बड़ा वर्ग चारों आरोपियों को मारे जाने का जश्न मना रहा है, तो वहीं चीफ जस्टिस ऑफ़ इंडिया एसए बोबड़े ने भी एनकाउंटर को लेकर कड़ी टिप्पणी की थी. उन्होंने कहा था कि अगर न्याय बदले की तरह होने लगे तो इसका चरित्र बदल जाएगा. एक अन्य रिटायर्ड न्यायमूर्ति ने ये भी कहा कि इस मुल्क में तालिबानी न्याय को कोई जगह नहीं है. इससे स्थितियां और बिगड़ेंगी.

हैदराबाद एनकाउंटर: चारों आरोपियों को मारने पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ FIR, सुप्रीम कोर्ट भी पहुंचा मामला