दमोह: मध्य प्रदेश के जिला दमोह में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. एक चार साल की मासूम को रेप के बाद रेलवे स्टेशन के पास ट्रैक के किनारे फेंक दिया. बच्ची को सुबह बेहोशी की हालत में बारिश में लोगों ने पड़ा हुआ देखा तो पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्ची को जिला अस्पताल में भर्ती कराया. यहां मेडिकल चेकअप में बच्ची से रेप की पुष्टि हुई. बच्ची कौन है, कहां की रहने वाली है, इसकी कोई जानकारी अब तक पुलिस को नहीं हो सकी है. घटना से हड़कंप मच गया. महिला सशक्तिकरण अधिकारी महिला बाल विकास विभाग व राज्य महिला आयोग ने मामले की जानकारी ली है.

कहीं 5वीं क्लास तो कहीं 6 साल की बच्ची से रेप, कठुआ-उन्नाव की तरह ही हैं ये केस

बारिश में भीगते हुए पड़ी थी बच्ची
घटना दमोह शहर की है. आज सुबह लोगों ने रेलवे प्लेटफार्म और रेलवे कालोनी के बीच बने रेलवे के मनोरंजन गृह जलसा के पास लोगों ने एक चार साल की मासूम को पड़ा देखा. बारिश हो रही थी. और बच्ची भीगते हुए बेहोशी की हालत में पड़ी हुई थी. लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने तुरंत ही बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया. बच्ची का मेडिकल चेकअप किया गया तब पता चला कि उसके साथ रेप किया गया.

बच्चियों के साथ रेप पर होगी फांसी, कैबिनेट ने POCSO एक्ट में किए कई बदलाव

बच्ची की हालत गंभीर, राज्य महिला आयोग ने संज्ञान में लिया मामला
एसपी सहित कई अधिकारी जिला अस्पताल बच्ची का हाल जानने पहुंचे. बच्ची की हालत गंभीर थी, इसलिए उसे जबलपुर मेडिकल कालेज रेफर किया गया है. अब तक बच्ची की पहचान नहीं हो पाई है. महिला बाल विकास विभाग के संजीव मिश्रा व राज्य महिला आयोग सदस्य सीमा जाट ने भी मामले को संज्ञान में लिया है. उन्होंने घटना की निंदा कर पुलिस से अपराधियों को तलाशने की मांग की है.