दमोह (मध्य प्रदेश): मध्य प्रदेश के दमोह जिले के जबेरा पुलिस थाना क्षेत्रांतर्गत एक गांव में छह साल की एक बच्ची के साथ कथित तौर पर अपहरण कर बलात्कार करने का मामला सामने आया है. अज्ञात आरोपी ने बच्ची के दोनों आंखों पर वार कर गंभीर चोट पहुंचाई है ताकि वह उसे पहचान न सके और पुलिस की गिरफ्त से बच सके. इसके अलावा, बच्ची के चेहरे एवं गालों पर भी चोटें आई हैं. यह घटना दमोह जिला मुख्यालय से करीब 55 किलोमीटर दूर हुई. Also Read - Coronavirus: देश में कोविड-19 के कुल मामले हुए 2 लाख 28 हजार, इन राज्यों में एक महीने में दस गुना से अधिक नए मामले

दमोह जिले के पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान ने बताया, ‘छह साल की यह पीड़ित बच्ची कल शाम को अपने घर के पास बच्चों के साथ खेल रही थी. उस दौरान कोई अज्ञात व्यक्ति उसे पकड़ कर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया.’ उन्होंने बताया , ‘ बच्ची की दोनों आंखों में गंभीर चोटें आई हैं. उसके चेहरे एवं गाल पर भी घाव है. उसकी हालत गंभीर है.’ जब उनसे सवाल किया गया कि क्या बच्ची की आंखें पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई हैं, तो इस पर चौहान ने बताया, ‘बच्ची की जांच करने वाले स्थानीय चिकित्सकों ने बताया कि उसकी दोनों आंखों में सूजन था जिससे रेटिना नहीं दिख रहे. इसलिए वे यह निष्कर्ष नहीं निकाल सकते कि बच्ची की आंखों में रोशनी है या नहीं.’ Also Read - इस दिन खुलेगा प्रसिद्ध बालाजी मंदिर, हर दिन 6,000 भक्त कर पाएंगे दर्शन

पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान ने बताया, ‘बच्ची गंभीर हालात में अपने घर से 50 कदम दूर एक कमरे के अंदर आज सुबह मिली. जहां वह मिली है, उस घर में कोई नहीं रहता. बच्ची के हाथ बंधे हुए थे.’ उन्होंने कहा कि जानकारी मिलने पर मौके पर पुलिस पहुंची ने पीड़ित बच्ची को तुरंत जबेरा तहसील इलाके स्थित एक अस्पताल ले गई, जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए जबलपुर रेफर कर दिया गया. Also Read - बोनी कपूर और बेटियों समेत सामने आई स्टाफ मेंबर्स की कोरोना रिपोर्ट

एसपी चौहान ने बताया, ‘बच्ची को जबलपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है और इलाज चल रहा है. उसकी आंखों का इस वक्त ऑपरेशन किया जा रहा है.’ उन्होंने कहा कि मामले की अभी विस्तृत जांच चल रही है और आरोपी का पता लगाकर उसे पकड़ने का प्रयास जारी है. चौहान ने आशंका जताई है कि आरोपी स्थानीय ही हो सकता है.