भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री कमल नाथ (Kamal Nath) ने फ्लोर टेस्ट से पहले मुख्यमंत्री आवास पर शुक्रवार को विधायक दल की बैठक बुलाई है. सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर आज कमलनाथ सरकार को विधानसभा में विश्वासमत हासिल करना है. राज्य के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने बताया है कि सुबह साढ़े 10 बजे मुख्यमंत्री आवास पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई है. शर्मा का दावा है कि कांग्रेस विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करने में सफल हेागी. वहीं, ये भी माना जा रहा है कि कमलनाथ सरकार का आज का दिन आखिरी हो सकता है. कमलनाथ फ्लोर टेस्ट से पहले इस्तीफ़ा दे सकते हैं. Also Read - केजरीवाल ने लोगों को गीता पाठ करने की दी सलाह, कहा- गीता के 18 अध्याय की तरह लॉकडाउन के बचे हैं 18 दिन 

विधानसभा सचिवालय ने सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के निर्देश पर आज दोपहर दो बजे विधानसभा का सत्र बुलाया है. देर रात को विधानसभा सचिवालय ने कार्यसूची जारी कर दी है. सत्र से पहले मुख्यमंत्री कमल नाथ ने दोपहर 12 बजे संवाददाता सम्मेलन बुलाया है. राजनीतिक घटनाक्रम के बीच होने वाले इस संवाददाता सम्मेलन को काफी अहम माना जा रहा है, क्योंकि कमलनाथ कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं. Also Read - यूपी: रायबरेली में सोनिया गांधी के 'लापता' होने के लगे पोस्टर, संसदीय क्षेत्र से बाहर होने पर उठे सवाल

कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों ने अपने विधायकों के लिए व्हिप जारी कर दी है. वर्तमान में विधानसभा का अंकगणित भाजपा के पक्ष में नजर आ रहा है, क्योंकि विधानसभाध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कांग्रेस के 16 और विधायकों के इस्तीफे गुरुवार की देर रात को मंजूर कर लिए. विधानसभा में 230 विधायक संख्या है, जिनमें से 24 स्थान रिक्त है. 206 विधायकों के सदन में बहुमत के लिए 104 विधायकों के समर्थन की जरूरत है. भाजपा के पास 107 विधायक हैं. कांग्रेस के 92 और सपा, बसपा व निर्दलीय विधायकों के समर्थन से यह आंकड़ा 99 तक ही पहुंचता है. Also Read - भाजपा अध्यक्ष ने कहा- लॉकडाउन में पैदल घर को निकले लोगों की मदद करें पार्टी कार्यकर्ता