टीकमगढ़: घर से ट्यूशन के लिए निकले 12वीं के छात्र के ऊपर दीवार गिर गई. घटनास्थल पर लोग एकत्रित हो गए. एम्बुलेंस को फोन लगाते रहे, लेकिन फोन नहीं उठा. युवक तड़पता रहा इसके बाद भी किसी ने भी छात्र को अस्पताल तक पहुंचाने की जहमत नहीं उठाई. इससे छात्र ने एक घंटे में सड़क पर ही तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया. इसके बाद भी एम्बुलेंस नहीं पहुंची. छात्र के शव को भी हथठेले से ही पोस्टमार्टम हाउस ले जाया गया. बताते हैं कि पूरी घटना के दौरान लोग फोटो-वीडियो बनाते रहे, लेकिन तुरंत मदद को आगे नहीं आए.

ट्यूशन पढ़ने निकला था, तभी हुआ हादसा
घटना मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के जतारा कसबे की है. यहां का रहने वाला 17 साल का अमित जैन 12वीं का छात्र था. वह आज सुबह करीब साढ़े सात बजे घर से ट्यूशन के लिए निकला था. वह सड़क पर था, तभी उसके ऊपर एक भवन की दीवार गिर गई. वह दीवार के मलबे में दब गया. दीवार गिरने से छात्र बुरी तरह से घायल हो गया. आसपास के लोग वहां एकत्रित हो गए. बताते हैं कि लोग एम्बुलेंस को फोन लगाते रहे, लेकिन फोन नहीं उठा.

एक घंटे तक तड़पते रहा छात्र
करीब एक घंटे तक यही चलता रहा, लेकिन किसी ने भी खुद छात्र को अस्पताल तक पहुंचाने की कोशिश नहीं की. छात्र ने मदद नहीं मिलने पर सड़क पर ही तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया. लोगों ने 100 नंबर भी पर फोन किया, लेकिन जब तक पुलिस पहुंची तब तक युवक की जान जा चुकी थी.

चीखती रही लड़की, ‘ले चलो-ले चलो’ कह जंगल में खींच ले गए 6 लड़के, इस तरह की दरिंदगी

इसके बाद भी हथठेले ले जाया शव
मानवता का शर्मसार करने का सिलसिला यहीं नहीं रुकी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव वाहन का इंतजाम नहीं कर पाया. मौके पर पहुंचे परिजन छात्र के शव को हथठेले पर पोस्टमार्टम हाउस तक ले गए. जतारा थाना एसओ अमित कुमार का कहना है कि वाहन नहीं मिला, इसलिए हथठेले पर शव ले जाया गया. पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया गया है.