चेन्नई: मद्रास उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को तमिलनाडु में शराब की सभी सरकारी दुकानों को बंद करने का आदेश दिया है. हालांकि, अदालत ने शराब की ऑनलाइन बिक्री पर छूट दे दी है. उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस की महामारी को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के तीसरे चरण में शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई थी लेकिन अदालत ने कहा कि यह दिशानिर्देशों का पूरी तरह से उल्लंघन है. Also Read - Coronavirus In Pakistan: पाकिस्तान में संक्रमण के 2,964 नए मामले, आंकड़ा 72 हजार के पार

अधिवक्ता जी राजेश और कमल हासन की पार्टी मक्कल नीधी मयम (एमएनएम) द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति विनीत कोठारी और न्यायमूर्ति पुष्पा सत्यनारायण की पीठ ने शराब की दुकानों के सामने भीड़ और सामाजिक दूरी के नियमों के उल्लंघन को संज्ञान में लेते हुए यह आदेश पारित किया. Also Read - Coronavirus In World Update: दुनिया में 61 लाख संक्रमित, 3.71 लाख से अधिक मौतें

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 की वजह से लागू लॉकडाउन के 43 दिनों के बाद बृहस्पतिवार को चेन्नई को छोड़कर राज्य में शराब की दुकानों को खोला गया था. Also Read - भूखे बच्चों को खाना खिलाने वाले फाफ डु प्लेसिस की सुरेश रैना ने की तारीफ

(इनपुट भाषा)