ग्वालियर (मध्य प्रदेश): राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास महाराज ने शुक्रवार को कहा कि सभी राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्रियों को इस भव्य राम मंदिर के निर्माण में भाग लेने के लिए अयोध्या में आमंत्रित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि मंदिर के निर्माण में किसी भी सरकार से किसी भी प्रकार का अनुदान नहीं लिया जाएगा. यह जानकारी उन्होंने ग्वालियर में अपने यात्रा के दौरान दी. Also Read - Covid-19 in India Update: 5290 लोग हुए कोविड-19 का शिकार, 162 की मौत, इस राज्य की स्थिति सबसे खराब


गोपाल दास महाराज ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि हमने पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को आमंत्रित कर दिया है. हमारे पास उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ जी हैं. धर्म में रूचि रखने वाले सभी अन्य राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्रियों को इस भव्य मंदिर के निर्माण में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा. साथ ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी आमंत्रित किया जाएगा. उन्होंने आगे कहा कि मंदिर के निर्माण में किसी भी सरकार से कोई अनुदान नहीं लिया जाएगा. मंदिर जनता के योगदान से बनाया जाएगा. सरकार ने पहले ही कई समस्याओं को हल किया है, अब हम उन पर ज्यादा बोझ नहीं बन सकते हैं.

इससे पहले गोपाल दास महाराज ने उस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया था जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके सरकारी आवास पर मिले थे. VHP नेता चंपत राय, के पराशरन और स्वामी गोविंद गिरिजी महाराज भी 20 फरवरी को पीएम मोदी से मिले प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे. पीएम के साथ घंटे की बैठक के बाद गोपाल दास महाराज ने कहा था कि हमने प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की और उन्हें अयोध्या आने का निमंत्रण दिया है. प्रधानमंत्री ने हमें आश्वासन दिया है कि वह इस प्रस्ताव के बारे में सोचेंगे. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि भव्य मंदिर जल्द ही बनाया जाएगा.