Live Updates

  • 7:03 PM IST

    राज्य में यूपीए नीत कांग्रेस टक्कर लेती भी नहीं दिख रही है.

  • 7:00 PM IST
    सभी सर्वे के नतीजों के अनुसार, महाराष्ट्र में बीजेपी की बड़ी बढ़त के साथ सरकार बनने जा रही है.
  • 6:58 PM IST

    आर. भारत, जन की बात एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी (एनडीए) को 223 सीटें, कांग्रेस (यूपीए) को 55 सीटें मिल सकती हैं.

  • 6:49 PM IST

    महाराष्ट्र में बीजेपी शिवसेना के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है. शिवसेना के समर्थन से बीजेपी एक बार फिर सत्ता में लौटते दिख रही है.

  • 6:48 PM IST

    महाराष्ट्र में 288 विधानसभा सीटें हैं. राज्य में 235 महिलाओं समेत 3,237 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं.

  • 6:46 PM IST

    आजतक एक्सिस सर्वे के अनुसार महारष्ट्र में बीजेपी के खाते में 180, कांग्रेस के खाते में 81 व अन्य को 27 सीटें मिल सकती हैं

  • 6:45 PM IST
    एबीपी-सी वोटर सर्वे में के अनुसार महाराष्ट्र में एक बार फिर बीजेपी सरकार बनने जा रही है.
  • 6:44 PM IST

    एबीपी-सी वोटर सर्वे में एनडीए (बीजेपी) को 204, यूपीए (कांग्रेस) को 69 व अन्य के खाते में कुल 15 सीटें जाती दिख रही हैं.

नई दिल्ली: महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों पर सोमवार को मतदान हुआ. मतदान के बाद अब बारी है एग्जिट पोल की. महाराष्ट्र में भाजपा मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में लगातार दूसरे कार्यकाल के लिए प्रयासरत है. भाजपा 164 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, जिसमें उसके कमल के निशान पर चुनाव लड़ने वाले छोटे सहयोगी दलों के उम्मीदवार शामिल हैं. वहीं शिवसेना ने 126 सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए हैं. दूसरी ओर, कांग्रेस ने 147 और सहयोगी राकांपा ने 121 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. अन्य दलों में, राज ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) ने 101 उम्मीदवार, भाकपा ने 16, माकपा ने आठ उम्मीदवार उतारे हैं.

बसपा ने 262 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. कुल 1400 निर्दलीय भी चुनाव मैदान में हैं. हालाँकि, विपक्ष का प्रचार अभियान फीका रहा क्योंकि कांग्रेस और राकांपा दोनों अंदरूनी खींचतान और चुनावों से पहले नेताओं के पार्टी छोड़ने से प्रभावित थीं.

महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार अभियान के दौरान मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और राकांपा प्रमुख शरद पवार द्वारा एकदूसरे पर निजी हमले किये गए. 79 वर्षीय पवार ने कई रैलियों को संबोधित किया. हालांकि, कांग्रेस और राकांपा एक भी संयुक्त रैली आयोजित करने में विफल रहीं. मोदी ने जहां पूरे राज्य में नौ रैलियों को संबोधित किया, वहीं राहुल गांधी ने छह जनसभाएं की. बता दें कि महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों के लिए 235 महिलाओं समेत 3,237 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इन सभी सीटों के लिए मतदान के लिए 96,661 मतदान केंद्र बनाये गए थे जिन पर साढ़े छह लाख कर्मचारी तैनात किये गए.