नई दिल्लीः महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीज लगभग लगभग आ गए हैं. धीरे धीरे स्थिर हो रहे चुनावी रुझानों के बाद अब सभी बड़ी राजनीतिक पार्टियां में सरकार बनाने के लिए गहमागहमी तेज हो गई है. इस बीच एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने महाराष्ट्र चुनाव नतीजों पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि जनता ने कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को जनादेश दिया है और भाजपा की सरकार को इस चुनाव में नकारा है.

एनसीपी प्रमुख शरद पवार से जब सरकार बनाने के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, हमारी और शिवसेना की विचार धारा पूरी तरह से अलग है और हमारी पार्टी शिवसेना के साथ गठजोड़ के लिए कभी नहीं सोच सकती. प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि इस चुनाव में विपक्ष ने कड़ी मेहनत की है और उसी का नतीजा है कि भाजपा इन चुनावों में इतने पीछे चली गई है.

महाराष्ट्र में BJP- शिवसेना की सरकार होगी, 50-50 के फॉर्मूले पर होगा काम: संजय राउत

बता दें कि महाराष्ट्र में बहुमत के लिए 145 सीटों का आंकड़ा चाहिए. रुझानों में ही बीजेपी और शिवसेना गठबंधन 164 से ज्यादा सीटों पर आगे चल रही है. साल 2014 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी को 122 सीटें मिली थी वहीं शिवसेना को 61 सीटों पर जीत हासिल हुई थी. वहीं कांग्रेस को 42 और एनसीपी को 41 सीटों पर जीत मिली थी.

इस बार के शुरुआती रुझानों में ऐसा लग रहा था कि बीजेपी अपने दम पर ही बहुमत का आंकड़ा छू लेगी. लेकिन जैसे जैसे वोटों को गिनती आगे बढ़ रही है बीजेपी का अकेले अपने दम पर सत्ता में आना मुश्किल लग रहा है. उसे शिवसेना का साथ लेना ही होगा.