मुंबई: महाराष्ट्र के प्रोटोकॉल मंत्री आदित्य ठाकरे ने दिल्ली स्थित महाराष्ट्र सदन के एक अधिकारी को कार्य मुक्त कर दिया है. इससे पहले एक वीडियो सामने आया था, जिसमें दिख रहा था कि अधिकारी सेना के जवानों से दुर्व्यवहार कर रहा है. घटना का कथित वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद ठाकरे को अधिकारी को उनकी ड्यूटी से कार्य मुक्त करना पड़ा. Also Read - IPL 2021: बढ़ते कोरोना वायरस मामलों के बीच मुंबई में होंगे आगामी आईपीएल मैच, BCCI को मिली 7 मई तक की डेडलाइन

एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि मंत्री ने मामले पर गंभीर संज्ञान लिया है और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) को कहा कि वह अधिकारी को घटना को लेकर निलंबित करें और उसके खिलाफ जांच करें. यह अधिकारी बीएसएफ का है और प्रतिनियुक्ति पर आया है. Also Read - Maharashtra में कोरोना संक्रमण से कुछ राहत मिली, 56,647 नए केस, 24 घंटे में 669 लोगों की मौत

विज्ञप्ति में कहा गया है कि यह घटना तब हुई, जब गोरखा रेजिमेंट का रेजिमेंटल बैंड बुधवार को छत्रपति शिवाजी महाराज की जयंती के मौके पर महाराष्ट्र सदन आया था. Also Read - Covid-19: देश के इन 10 राज्‍यों में कोरोना वायरस संक्रमण से 77 फीसदी हुईं नई मौतें

एक अधिकारी ने बताया कि जवान सदन के ‘एक्जीक्यूटिव डाइनिंग हॉल’ में दोपहर का भोज कर रहे थे, तभी सहायक आवासीय आयुक्त (प्रोटोकॉल) विजय कयरकर वहां आ गए और जवानों से सार्वजनिक डाइनिंग हॉल में बैठने के लिए कहते हुए कथित रूप से उनसे बदसलूकी की. इसके बाद कार्यक्रम के आयोजक और जवान चले गए.