नई दिल्‍ली: देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित महाराष्‍ट्र में भी राज्‍य के विधायकों की सैलरी में कटौती की जाएगी. वहीं महराष्‍ट्र की कैबिनेट ने COVID19 lockdown के बाद राज्‍य की अर्थव्‍यवस्‍था की स्थिति और रिवाइवल प्‍लान के लिए दो कमेटियों के गठन को भी मंजूरी दी है. Also Read - कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित पांचवां देश बना भारत, इटली और स्पेन को पीछे छोड़ा

महाराष्‍ट्र कैबिनेट ने सभी विधायकों की 30 फीसदी सैलरी में कटौती के प्रस्‍ताव को इसी माल अप्रैल से लागू करने के लिए मंजूरी दे दी है. Also Read - अनुष्‍का शर्मा की सनशाइन वाली पिक्‍चर पर फ्लैट हुए विराट कोहली, इंस्‍टाग्राम पर इस अंदाज में दिया जवाब

कैबिनेट ने 2 कमेटियों के गठन को भी स्‍वीकृति दे दी है, जिसमें COVID19 lockdown के बाद राज्‍य की अर्थव्‍यवस्‍था का अनुमान और उसमें सुधार के लिए एक रिवाइवल प्‍लान तैयार किया जाएगा.

एक कमेटी में महाराष्‍ट्र वित्‍त मंत्रालय के विशेषज्ञ, ब्‍यूरोक्रेट्स, अधिकारी होंगे, जबकि दूसरी कमेटी में मंत्री डिप्‍टी सीएम अजीत पवार, जयंत पाटिल, बालासाहेब थोरात, छगन भुजबल और अनिल परब शामिल रहेंगे.

बता दें क‍ि महाराष्ट्र में कोविड-19 के कुल 1,297 मामले सामने आए हैं, जिनमें 800 से अधिक मामले मुंबई से आए हैं. इसके साथ ही महानगर में 45 लोगों की मौत भी हुई है. बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अनुसार, सर्वाधिक प्रभावित 381क्षेत्रों में विभिन्न इमारतें, हाउसिंग सोसायटी, झुग्गी-झोपड़ी और अस्पताल शामिल हैं. मुंबई में लॉकडाउन के बावजूद ऐसे क्षेत्रों की संख्या बढ़ गयी है जहां कोरोना वायरस से संक्रमण के एक से अधिक मामले सामने आए हैं। पिछले सप्ताह ऐसे क्षेत्रों की संख्या 146 थी जो गुरुवार को बढ़कर 381 हो गई.