वर्धाः देश में कोरोनावायरस के चलते 21 दिन का पूर्ण रूप से लॉकडाउन लगाया है ताकि वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके लेकिन बावजूद इसके देश में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. महाराष्ट्र ऐसा राज्य है जो कि इस खतरनाक वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है. महाराष्ट्र में अब तक 700 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं जबकि 50 से अधिक लोग जान गवां चुके हैं. लॉकडाउन के बावजूद कुछ लोग इसका पालन करने में कोताही बरत रहे हैं. भाजपा विधायक ने रविवार को अपने जन्मदिन के अवसर पर लोगों को राशन बांटा. Also Read - Covid-19 Update in India: देश में 24 घंटे में रिकॉर्ड 8,380 केस सामने आए, मृतकों संख्या की संख्या पहुंची 5 हजार के पार

महाराष्ट्र के वर्धा जिले में भाजपा के एक विधायक ने कथित तौर पर लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करते हुए रविवार को अपने जन्मदिन के अवसर पर लोगों को अनाज बांटा. घटना की पुष्टि करते हुए सब डिविजनल अधिकारी हरीश धार्मिक ने कहा कि विधायक दादाराव केचे पर महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा. Also Read - महामारी विशेषज्ञ का दावा, 2020 में विकसित हो सकता कोरोना वैक्सीन, मगर 2021 के अंत तक इसका उत्पादन संभव

उन्होंने कहा कि विधायक ने बंद के दौरान प्रशासन से कोई अनुमति नहीं ली थी. विधायक के घर के बाहर मुफ्त में अनाज लेने के लिए कम से कम सौ लोग एकत्रित हुए थे जिसके बाद पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंच कर उन्हें तितर बितर किया. विधायक ने कहा कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई थी और यह उनके खिलाफ विपक्षी दलों की ‘‘राजनीतिक साजिश’’है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से कोरोनावायरस को खत्म करने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग को बढ़ाने के लिए कहा है और इसी उद्देश्य से देश में लॉकडाउन लगाया गया है. लेकिन जब विधायक जी ने लोगों को राशन बाटने की घोषणा की तो राशन लेने के लिए सैकड़ो लोग एक जगह पर इकट्ठा पाए गए.