नई दिल्लीः महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होने हैं. सभी राजनीतिक पार्टी चुनावी तैयारियों में जुटी हुई हैं. इस बीच शिवसेना ने आज यानि शनिवार को अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है. पार्टी ने अपना घोषणा पत्र आदित्य ठाकरे की अगुवाई में जारी किया. अपने चुनावी मेनिफेस्टों में शिवसेनाने कई बड़े वादे जनता से किए. राज्य में सरकार बनने पर आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए महाविद्यालय, किसानों की कर्ज माफी और साथ ही बिजली के बिलों की माफी सहित कई बड़े वादों का पार्टी ने ऐलान किया है.

पार्टी के घोषणापत्र के पहले पेज में सबसे पहले बालासाहेब ठाकरे की फोटो है और फिर उनके नीचे एक तरफ उद्धव ठाकरे की और दूसरी तरफ आदित्य ठाकरे की फोटो बनी हुई है. शिवसेना ने वादा किया है कि 10 रुपये में दिया भोजन दिया जाएगा और इसके लिए राज्य भर में जाएंगे 1000 भोजनालय बनाए जाएंगे. 300 यूनिट तक बिजली दर में 30 फीसदी कमी करने का भी पार्टी ने वादा किया.

भाजपा-शिवसेना गठबंधन की फिर सरकार बनेगी और थके हुए विपक्ष का इस चुनाव में हो जाएगा सफायाः उद्धव

अपने मेनिफेस्टो में पार्टी ने छात्रों का भी खास ध्यान रखा है. पार्टी ने वादा किया कि यदि शिवसेना भाजपा गठबंधन की सरकार बनती है तो पार्टी 15 लाख ग्रेजुएट युवाओं को सरकार फेलोशिप देगी. भूमिपुत्रों को नौकरी में 80 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा और इस कानून का सख्ती से किया पालन जाएगा. नॉन रेजिडेंट एरिया में शुरू की जाएगी नाईट लाइफ.

महाराष्ट्र विधानसभा की 288, जबकि हरियाणा विधानसभा की 90 सीटों के चुनाव के लिए 21 अक्टूबर को मतदान होने हैं। चुनाव परिणाम 24 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे. घोषणा पत्र जारी करने के दौरान आदित्य ठाकरे ने पार्टी ने अलग अलग क्षेत्रों के लिए भी मेनिफेस्टो तैयार किया है लेकिन अभी वाला पूरे प्रदेश के लिए है. उन्होंने कहा कि आरे कॉलोनी मामले को भी इसमें शामिल किया गया है.