मुंबई: महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने महिलाओं के खिलाफ अपराधों की रोकथाम के लिए बनाए जा रहे कानून को लेकर रविवार को लोगों से सुझाव देने की अपील की. देशमुख ने कहा कि राज्य सरकार पुलिस बल में महिलाकर्मियों की संख्या वर्तमान 15 फीसद से बढ़ाकर 30 फीसद करेगी. रविवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर अपने संदेश में देशमुख ने लोगों से ट्विटर पर उनके पोस्ट पर टिप्पणी वाले खंड में अपने सुझाव देने की अपील की. Also Read - लॉकडाउन में अजय देवगन ने मुंबई पुलिस को किया ट्वीट, बदले में मिला एक फिल्मी डायलॉग

मंत्री ने ट्विटर पर जारी एक वीडियो में कहा, ‘‘ महाराष्ट्र सरकार महिलाओं के विरूद्ध अपराध की घटनाएं होने से रोकने के लिए शीघ्र ही कानून लायेगी. इस कानून का लक्ष्य गुनहगारों के खिलाफ तीव्र कार्रवाई सुनिश्चित करना है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ यदि आप इस कानून को लेकर कोई सुझाव देना चाहते हैं तो मैं आपसे अपने टिप्पणी वाले खंड में ऐसा करने का अनुरोध करता हूं.’’ Also Read - Coronavirus को लेकर राम गोपाल वर्मा ने किया भद्दा मज़ाक, यूजर्स बोले- थोड़ी तो शरम करो, पुलिस लेगी एक्शन

बाद में देशमुख यहां मैरीन ड्राइव पर महिला सुरक्षा रैली में हिस्सा लिया. मुम्बई पुलिस की महिला कर्मियों ने इस रैली में भाग लिया. देशमुख ने महिलाओं के विरूद्ध अपराध रोकने के लिए कानून लाने के अपनी सरकार के निश्चय को दोहराया.

इस मौके पर उन्होंने कहा, ‘‘ फिलहाल पुलिस बल में करीब सवा दो लाख अधिकारी एवं कर्मी हैं . उनमें करीब 28000 यानी 15 फीसद महिलाएं हैं. सरकार महिला कर्मियों की संख्या बढ़ाकर 30 फीसद करने का प्रयास करेगी.’’