अमृतसर. दशहरा समारोह की मुख्य आयोजक नगर निगम पार्षद विजय मदान और सौरभ मदान मिट्ठू अपने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ भूमिगत हो गये है. रावण दहन देखने के लिए शुक्रवार की शाम को रेल की पटरियों पर खड़े लोग एक ट्रेन की चपेट में आ गए जिसमें कम से कम 59 लोगों की मौत हो गई थी. Also Read - कई दिनों तक नवजोत सिंह सिद्धू के बंगले के बाहर इंतजार करती रही बिहार पुलिस, फिर चिपकाया नोटिस

पुलिस के अनुसार इस हादसे से नाराज कुछ लोगों ने शनिवार को उनके आवास पर हमला कर दिया,खिड़कियों के शीशे तोड़ दिये और पथराव किया. लोगों ने उनपर ऐसी जगह पर आयोजन कराने के लिए दोषी ठहराया है और हादसे का जिम्मेदार बता रहे हैं. Also Read - श्रद्धालुओं के लिए खोले गए 'गोल्डन टेंपल' के दरवाजे, लेकिन सख्त नियमों के साथ

घर पर पुलिसकर्मी तैनात
इसके बाद मदान परिवार के सदस्य किसी अज्ञात स्थान पर चले गये और उन्होंने अपने मोबाइल फोन बंद कर लिये. हालांकि उनके आवास पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. विजय मदान अमृतसर पूर्व विधानसभा क्षेत्र के तहत वार्ड संख्या 29 से मौजूदा पार्षद है. मदान परिवार के सदस्य उस दशहरा कार्यक्रम के मुख्य आयोजक थे जहां ट्रेन हादसा हुआ था. Also Read - दिल्ली से अमृतसर का सफर मात्र 4 घंटे में होगा पूरा, सिखों के इन प्रमुख शहरों से होकर गुजरेगा सड़क मार्ग