पुरुष अपने पारिवारिक डॉक्टर के पास नियमित जांच के लिए जाने की जगह आमतौर पर वहां न जाने के बहाने ढूंढते हैं और उनका सबसे बड़ा बहाना यह होता है कि वे व्यस्त हैं। अमेरिका में किए गए एक नए सर्वेक्षण में यह कहा गया है। मध्य फ्लोरिडा की स्वास्थ्य सेवा ‘ओरलैंडो हैल्थ’ की ओर से हैरिस पोल ने अप्रैल 19-21, 2016 के बीच 18 साल और इससे अधिक उम्र के 2,042 वयस्कों पर यह ऑनलाईन सर्वे किया।Also Read - National Doctors Day 2021: डॉक्टरों के लिए फिटनेस कितनी जरूरी है? | डॉ. संदीप वोहरा अपोलो हॉस्पिटल्स, से फिटनेस पर बात

Also Read - Tips: दुखी होने पर आंसुओं को रोकना आपके लिए हो सकता है खतरनाक, इन समस्याओं के हो सकते हैं शिकार

पुरुषों के स्वास्थ्य कार्यकर्ता और फ्लोरिडा में स्थित क्लेरमोंट के ‘पीयूआर’ (पर्सनलाइज्ड युरोलोजी एंड रोबोटिक्स) क्लिनिक के सह-निदेशक जामिन ब्रह्मभट्ट ने कहा, “पुरुष गोल्फ खेलने में या बॉल गेम देखने में हर सप्ताह 34 घंटे व्यतीत कर सकते हैं या अपने दोस्तों के साथ वेगास की यात्रा के लिए समय निकाल सकते हैं, लेकिन अपनी स्वास्थ्य जांच के लिए वे साल में 90 मिनट भी खर्च नहीं कर सकते।” यह भी पढ़े-विश्व मोटापा दिवस 26 अक्टूबर: मोटापा देता है यकृत की बीमारी को न्योता Also Read - Bigg Boss 13: सलमान खान की फैमिली चाहती है वो ये शो छोड़ दें, अब 'भाईजान' क्या करेंगे?

ब्रह्मभट्ट ‘ड्राइव फॉर मेन्स हेल्थ’ अभियान के सह-संस्थापक भी हैं। ‘ड्राइव फॉर मेन्स हेल्थ’ पुरुषों को अपने स्वास्थ्य को प्राथमिकता देने को प्रेरित करती है।सर्वे के मुताबिक, पुरुषों का दूसरा सबसे आम बहाना यह होता है कि उन्हें इस बात से डर लगता है कि उनके साथ कुछ गलत न हो।

डॉक्टरों ने कहा कि पुरुषों की जीवन प्रत्याशा महिलाओं से पांच साल कम होती है और इसका सबसे बड़ा एक कारण यह है कि पुरुषों की तुलना में महिलाएं अपने स्वास्थ्य को लेकर ज्यादा जागरूक होती हैं।