कोलकाताः चिटफंड घोटाला मामले में कोलकाता पुलिस प्रमुख से पूछताछ करने की सीबीआई की कोशिश के खिलाफ धरने पर बैठीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा विरोधी गठबंधन तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के कारण उनको निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि पीएम मोदी और शाह उस हर राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाना चाहते हैं जहां विपक्ष सत्ता में है.

पिछले करीब 18 घंटे से धरने पर बैठीं ममता ने सोमवार को कहा कि देश और संविधान को जब तक बचा नहीं लिया जाता उनका ‘सत्याग्रह’ जारी रहेगा. भाजपा नीत केन्द्र सरकार के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ताओं ने राज्य के अधिकतर हिस्सों में रैलियां आयोजित की और धरने दिए. दो जिलों में ट्रेनों की आवाजाही भी रोकी गई.

बनर्जी ‘संविधान पर हुए हमले’ के खिलाफ रविवार रात करीब साढ़े आठ बजे धरने पर बैठीं. वह अभी भी वरिष्ठ मंत्रियों और पार्टी के सदस्यों के साथ अब भी शहर के बीचों बीच ‘मेट्रो चैनल’ में एक अस्थायी मंच पर बनी हुईं हैं.

25 दिनों की भूख हड़ताल कर चुकीं है ममता
वाम मोर्चा सरकार द्वारा कार कारखाना स्थापित करने के लिए सिंगुर में भूमि अधिग्रहण के खिलाफ भी ममता ने 2006 दिसम्बर में यहीं 25 दिन की भूखहड़ताल की थी. सिंगूर अभियान से ही ममता के 2011 में सत्ता में आने की राह खुली थी.

गौरतलब है कि चिटफंड घोटाला मामले में कोलकाता पुलिस प्रमुख राजीव कुमार से पूछताछ के लिए सीबीआई की टीम पहुंचने के बाद से राज्य में राजनीति माहौल गर्मा गया. सीबीआई की एक टीम रविवार को मध्य कोलकाता में कुमार के लाउडन स्ट्रीट स्थित आवास पहुंची थी लेकिन वहां तैनात संतरियों एवं कर्मियों ने उन्हें अंदर जाने से रोक दिया और उन्हें जीप में भर कर थाने ले गए.

बनर्जी ने धरना स्थल पर मौजूद पत्रकारों से कहा, ‘‘यह एक सत्याग्रह है और जब तक देश सुरक्षित नहीं हो जाता मैं इसे जारी रखूंगी.’’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एम चंद्रबाबू नायडू, राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद सहित कई नेताओं ने ममता बनर्जी का समर्थन किया है.

CBI बनाम ममता: पश्चिम बंगाल में लगेगा राष्ट्रपति शासन? राजनाथ ने राज्यपाल से मांगी रिपोर्ट

यह पूछने पर कि क्या विपक्ष का कोई नेता उनसे मिलने शहर आएगा, बनर्जी ने कहा, ‘‘मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. अगर कोई आना चाहता है तो हम उसका स्वागत करेंगे. यह लड़ाई मेरी पार्टी की नहीं है. यह मेरी सरकार के लिए है.’’

सपा नेता किरणमय नंदा धरना स्थल पर पहुंचे
इस बीच, समाजवादी नेता किरणमय नंदा धरना स्थल पर पहुंचे और मामले पर बनर्जी के साथ अपनी पार्टी की एकजुटता व्यक्त की. मंच के आसपास कुछ मार्गों पर अवरोधक लगाए गए हैं. कई जिलों से पार्टी समर्थक यहां पहुंचे और बनर्जी के समर्थन में नारेबाजी भी की. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि वह विधानसभा नहीं जाएंगी, जहां सोमवार को वित्त मंत्री अमित मित्रा राज्य का बजट पेश करेंगे. इससे पहले अस्थायी मंच के पीछे बने एक कमरे में कैबिनेट की बैठक हई.

राजनीति का अखाड़ा क्यों बन गया है लोकसभा सीटों के लिहाज से तीसरा सबसे बड़ा राज्य पश्चिम बंगाल?

तृणमूल कांग्रेस के सूत्रों ने बताया कि बनर्जी को यहां एक इंडोर स्टेडियम में पार्टी की किसान शाखा के साथ एक बैठक करनी थी. हालांकि अब वह वहां नहीं जाएंगी पार्टी के अन्य नेता बैठक को संबोधित करेंगे. अधिकारियों ने बताया कि हुगली, हावड़ा, बांकुरा, पूर्वी वर्द्धमान, पुरुलिया, बीरभूम और उत्तर 24 परगना जिले में सुबह लोग सड़कों पर भी उतरे. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के पुतले भी जलाए गए.

हुगली और हावड़ा में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ट्रेनों की आवाजाही भी बाधित की. जबकि बांकुरा में राष्ट्रीय राजमार्ग अवरूद्ध किया. तृणमूल कार्यकर्ताओं ने सीबीआई के खिलाफ नारेबाजी करते हुए नरेन्द्र मोदी सरकार को लोकसभा चुनावों में मात देने तक लड़ाई जारी रखने का संकल्प लिया. बनर्जी ने पार्टी नेताओं से सोमवार दोपहर दो से शाम चार बजे के बीच लोगों को परेशान किए बिना राज्यभर में प्रदर्शन मार्च निकालने का निर्देश दिया है.

इस बात पर जोर देते हुए कि “संविधान और संघवाद” की भावना को कलंकित किया गया है बनर्जी ने दावा किया था कि सीबीआई कुमार के दरवाजे पर बिना तलाशी वारंट के पहुंची. बनर्जी ने आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा विरोधी गठबंधन तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह उस हर राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाना चाहते हैं जहां विपक्ष सत्ता में है.