कोलकाता: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन के मुद्दे पर बुधवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से बुलाई गई मुख्यमंत्रियों की बैठक में पश्चिम बंगाल को वक्ताओं में शामिल न किए जाने पर राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बैठक में हिस्सा नहीं लिया. बैठक में पश्चिम बंगाल सरकार के किसी प्रतिनिधि ने भी हिस्सा नहीं लिया. Also Read - पीएम मोदी ने देश को समर्पित किया एशिया का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्‍ट

बनर्जी ने प्रधानमंत्री की बैठक में शामिल होने की बजाय राज्य में कोविड-19 की स्थिति पर समीक्षा बैठक की. समीक्षा बैठक के बाद बनर्जी ने संवाददाताओं से कहा, “हो सकता है कि केंद्र सरकार की हमें बुलाने की इच्छा ही न रही हो इसीलिए उन्होंने हमें बैठक में बोलने का आमंत्रण नहीं दिया था.” Also Read - भारत आज भी दुनिया की सबसे खुली अर्थव्यवस्थाओं में से एक: पीएम मोदी

उन्होंने कहा कि राज्य में महामारी से निपटने के लिए उनकी समीक्षा बैठक ज्यादा जरूरी है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार बड़ी बैठकें कर रही है लेकिन वह (बनर्जी) लोगों की जरूरतों को समझने के लिए जमीनी स्तर पर बैठक कर रही हैं. Also Read - CBSE Cut Syllabus: ममता ने कहा- CBSE के नए सिलेबस के नाम पर नागरिकता, धर्मनिरपेक्षता जैसे विषयों को हटाए जाने से हैरान हूं 

आपको बता दें कि जब से देश में कोरोनावायरस महामारी फैली है तब से पीएम मोदी राज्यों से सात बार बात कर चुके हैं. मंगलवार और बुधवार को पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों से दो चरणों में बात की.