नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने एयर इंडिया में अपनी हिस्सेदारी बेचने के केंद्र सरकार के कदम का कड़ा विरोध किया. साथ ही तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओब्रायन ने एयर इंडिया में अपनी हिस्सेदारी बेचने के केंद्र सरकार के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि संसदीय पैनल अब भी इस मुद्दे की जांच कर रहा है.Also Read - BPCL Sale: पहली छमाही में BPCL विनिवेश करने की संभावना कम, अंतिम तिमाही में आएगा LIC का IPO: दीपम सचिव

राष्ट्रीय कैरियर के रणनीतिक विनिवेश पर सरकार द्वारा ‘प्रीलिमिनेरी इन्फर्मेशन मेमोरेंडम’ जारी किए जानेके कुछ घंटों बाद बनर्जी ने ट्विटर पर, सरकार के फैसले को लेकर आपत्ति जताई. ममता ने कहा, ‘मीडिया में इन खबरों को पढ़ कर बहुत दुख हुआ कि सरकार ने एयर इंडिया को बेचने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. हम इसका कड़ा विरोध करते हैं और चाहते हैं कि यह फैसला तत्काल वापस लिया जाए.’ Also Read - Air India Sale: टाटा ने एसपीए के बाद एयर इंडिया को ऑन-बोर्ड करने के लिए नए वर्टिकल की योजना बनाई

Also Read - Air India Sale: सरकार ने टाटा समूह को जारी किया आशय पत्र, अब होंगे शेयर खरीद समझौते पर हस्ताक्षर

उन्होंने कहा, ‘सरकार को चाहिए कि वह हमारे देश को बेचने की अनुमति कतई न दे.’ ओब्रायन ने भी सरकार के कदम का विरोध करते हुए कहा, ‘एयर इंडिया के प्रस्तावित विनिवेश पर समिति विचार कर रही है. सभी पक्षों को बुलाया जा रहा है उनके विचार सुने जा रहे हैं. लेकिन सरकार ने ऐसा फैसला कैसे लिया.’ वह परिवहन, पर्यटन और संस्कृति की स्थायी संसदीय समिति के प्रमुख हैं.