केन्द्रपाड़ा (ओडिशा): केन्द्रपाड़ा जिले में एक अमीर प्रभावशाली परिवार की एक महिला को भगा ले जाने वाले एक व्यक्ति को पंचायत के आदेश पर कथित रूप से निर्वस्त्र करके पीटा गया. घायल व्‍यक्ति को सरकारी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है. साथ ही पुलिस ने मामले में सरपंच सहित चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. Also Read - कोरोना वायरस: देश में कोरोना के 114 मामलों की पुष्टि, ओडिशा में पहला मामला | बड़ी बातें

बिहार में पढ़ाई कर लौट रही छात्रा से छेड़छाड़, वायरल वीडियो में कोई उसे खींच रहा, कोई छीन रहा दुपट्टा Also Read - ओडिशा के CM नवीन पटनायक के आवास पर भोज में साथ शामिल हुए अमित शाह-ममता बनर्जी

पुलिस ने आज कहा कि तालचुआ ग्राम पंचायत के सरपंच सहित करीब 12 लोगों के एक समूह ने ‘सजा’ का आदेश दिया था जिसे चार पांच गांववालों ने पूरा किया. इस घटना का वीडियो बनाकर इसे सोशल मीडिया पर डाल दिया गया जिसे खूब देखा गया. करीब एक सप्ताह पहले दोनों भाग गये थे लेकिन महिला के परिजनों ने उन्हें खोज निकाला और वे महिला को भेटका गांव स्थित घर में वापस बुला लाये थे. पुलिस ने कहा कि घायल व्यक्ति का एक स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज चल रहा है. सरपंच सहित चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. Also Read - VIDEO: चलती ट्रेन पर चढ़ने के प्रयास में महिला का पैर फिसला, रेलवे पुलिसकर्मी ने ऐसे बचाई जान

बिहार में डबल मर्डर के दोषी गैंगस्टर की कोर्ट परिसर में गोली मारकर हत्या

बिहार में महिला को पीटा, कपड़े फाड़े और नंगा घुमाया
बता दें कि कुछ दिनों पहले बिहार के भोजपुर जिले में एक युवक की हत्या में शामिल होने के संदेह में उग्र भीड़ ने एक महिला के कपड़े फाड़ दिए थे और उसे निर्वस्त्र करके घुमाया था. इस दौरान उसकी पिटाई भी की थी. पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने बताया था कि यह घटना लापता हुए 19 वर्षीय विमलेश शाह का शव रेलवे ट्रैक के नजदीक बरामद होने के बाद हुई थी. उन्होंने बताया कि शाह के गांव दामोदरपुर के लोगों ने उसका शव बरामद होने के बाद रेड लाइट एरिया में रहने वालों पर उसकी गला घोंट कर हत्या करने का संदेह व्यक्त किया था.