नई दिल्ली. उत्तर-पूर्वी दिल्ली के रामपुरा इलाके में हुई महिला की हत्या के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने आरोपी दामाद को पकड़ लिया है. पुलिस के मुताबिक, घर में पकौड़े तलने को लेकर हुए विवाद के बाद दामाद ने अपनी सास की हत्या कर दी थी. इसके बाद से वह फरार चल रहा था. मंगलवार को पुलिस ने लगभग 10 किमी पीछा करके उसे यूपी के गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया.

क्या है मामला
पुलिस के मुताबिक, 24 साल के अफरोज ने पिछले सा शैस्ता से शादी की थी. दोनों केशवपुरम के नजदीक रामपुरा में किराए का कमरा लेकर रहने लगे. शादी के कुछ महीने बाद उसकी अफरोज की सास फॉजिदा वहां और उनके साथ ही रहने लगी. बताया जा रहा है कि इस दौरान अफरोज की अपने सास के साथ हमेशा झड़प होती रहती थी.

ठंडे पकौड़े पर शुरू हुआ विवाद
अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, वारदात के दिन शैस्ता ने घर पर पकौड़े बनवाए थे. इसके बाद उसने कुछ अफरोज के लिए रख दिए थे. शाम को अफरोज घर लौटा तो शौस्ता ने उसे ठंडे पकौड़े दे दिए. इसे लेकर शैस्ता और अफरोज में विवाद हो गया. इसी बीच फौजिदा भी उनकी झड़प में आ गई, जिससे गुस्सा कर अफरोज ने चक्कू उठाया और उसपर कई वार कर दिए. इस बीच शैस्ता ने उसे रोकने की कोशिश की तो अफरोज ने उसपर भी हमला कर फरार हो गया.

10 किमी भागा
वारदात के बाद केशवपुरम एसएचओ के नेतृत्व में एक टीम बनाकर अफरोज की तलाश की जा रही थी. इस दौरान वह यूपी, दिल्ली और मुंबई कई जगह जाता रहा. उत्तर-पूर्वी दिल्ली के डीसीपी असलम खान ने बताया कि उसे गाजीपुर से गिरफ्तार किया गया है, जहां वह मजदूरी करने लगा था. पुलिस ने उसे सरेंडर करने को बोला तो वह भागने लगा. इस बीच भीड़ भी उसका पीछा करने लगी. 10 किलोमीटर पीछा करने के बाद पुलिस ने उसे पकड़ा.