Mani Shankar Aiyar Controversial Statement: कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर (Mani Shankar Aiyar) का विवादों से पुराना नाता रहा है. ऐसे में एक बार फिर उन्होंने आपत्तिजनक बयान देकर देश की राजनीति को गरमा दिया है. नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों के बीच अय्यर कल शाहीन बाग पहुंचे. यहां उन्होंने केंद्र सरकार पर जनकर निशाना साधा साथ ही नागरिकता कानून का विरोध भी किया. शाहीन बाग पहुंचे अय्यर ने अपनी भाषण में कहा कि ‘मैं किसी भी तरह की कुर्बानी देने के लिए तैयार हूं, हम देखेंगे कि किसके हाथ मजबूत हैं, हमारे या उस कातिल के.’ बता दें कि इसी बयान के बाद से मणिशंकर अय्यर एक बार फिर राजनीति के केंद्र में आ चुके हैं.

पूर्व सांसद ने दावा किया कि भाजपा सरकार में सबका साथ, सबका विकास के नारे के साथ सत्ता में आई थी लेकिन अब सबका साथ, सबका विनाश करने पर तुली हुई है. सरकार ने असली मु्द्दों से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए CAA और NRC जैसे विवाद को जन्म दिया है. हालांकि शाहीन बाग की साहसी महिलाओं ने उन्हें बता दिया है कि वे अब लोगों को और बेवकूफ नहीं बना सकते हैं.

अय्यर ने प्रदर्शनकारियों को किसी भी राजनीतिक दल से समर्थन नहीं लेने और बगैर समर्थन के प्रदर्शन करने को लेकर प्रशंसा भी की. उन्होंने कहा कि आपको किसी राजनेता की जरूरत नहीं है. आप यहां पिछले 30 दिनों से यहां पर प्रदर्शन कर रही हैं. केंद्र सरकार को कोई हक नहीं बनता कि वह देश के वास्तविक नागरिकों से उनके नागरिकता का प्रमाण मांगे.

गौरतलब है कि नागरिकता कानून के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. इसी कड़ी में सैकडों महिलाएं अपने बच्चों के साथ बीते एक महीने से दिल्ली के शाहीन बाग में धरने पर बैठी हुई हैं. हालांकि पुलिस ने इस इलाके को खाली कराने का निर्देश दे दिया है. कोर्ट ने कहा है कि पुलिस बल का प्रयोग न करें बल्कि निवेदन कर इलाके को खाली कराए. बता दें कि जिस सड़क पर महिलाएं धरना दे रही हैं वह सड़क दिल्ली से नोएडा को जोड़ने वाली अहम सड़क मार्ग है.