पणजी: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर अमेरिका में तीन माह के इलाज के बाद गुरुवार को घर लौट आए. पर्रिकर (62) अग्नाशय संबंधी बीमारी के इलाज के लिए इस साल मार्च से अमेरिका में थे. मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि पर्रिकर अमेरिका से मुंबई पहुंचे और उसके बाद दूसरी उड़ान से पणजी पहुंचे. इस बीमारी का पता चलने के बाद पर्रिकर को 15 फरवरी को मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें 22 फरवरी को अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी.इसके बाद वह गोवा लौटे और उसी दिन विधानसभा में बजट पेश किया.

हालांकि पानी की कमी के कारण उन्हें 25 फरवरी को गोवा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया. उन्हें चार दिन बाद अस्पताल से छुट्टी मिल गई. मुख्यमंत्री मेडिकल जांच के लिए पांच मार्च को फिर से मुंबई गए, जहां से उन्हें अमेरिका रेफर कर दिया गया.वह सात मार्च को अमेरिका के लिए रवाना हुए थे. अमेरिका जाने से पहले पर्रिकर ने अपनी गैर-मौजूदगी में शासन एवं अन्य मुद्दों पर राज्य प्रशासन का मार्गदर्शन करने के लिए एक कैबिनेट परामर्श समिति बनाई थी. वह अमेरिका से ही गोवा के कामकाज पर नजर रख रहे थे.

महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के सुदीन धवलिकर, भाजपा के फ्रांसिस डिसूजा और गोवा फॉरवर्ड पार्टी के विजय सरदेसाई की सदस्यता वाली समिति का कार्यकाल 30 जून को खत्म होगा. अधिकारी ने बताया कि पर्रिकर 15 जून को कैबिनेट की बैठक कर सकते हैं. इस बैठक में विधानसभा के आगामी मानसून सत्र की तारीखों पर फैसला किया जा सकता है. सूत्रों के मुताबिक सभी मंत्रियों को बैठक में शिरकत करने के निर्देश दिए गए हैं.