नई दिल्ली: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने मंगलवार को अपने निजी निवास पर राज्य निवेश संवर्धन बोर्ड की एक बैठक की अध्यक्षता की. पर्रिकर 14 अक्टूबर को दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान से डिस्चार्ज होकर घर लौटे थे. कई कैबिनेट मंत्रियों, उद्योगपतियों और अन्य अधिकारियों ने एक घंटे से अधिक समय तक बैठक की. गोवा की भारतीय जनता पार्टी द्वारा जारी एक तस्वीर जारी की गई है जिसमें पर्रिकर शर्ट और गहरे नीले रंग के पतलून पहने हुए एक सोफे पर बैठे हैं. मंगलवार को बैठक के बाद राजस्व मंत्री रोहन खैंटे ने कहा कि मुख्यमंत्री ठीक हैं. बोर्ड बैठक के दौरान उन्होंने सकारात्मक सुझाव दिए. पिछले कुछ दिनों से विपक्षी कांग्रेस मुख्यमंत्री की फोटो या वीडियो सबूत के तौर पर मांग रही थी. Also Read - सत्ता के लालची लोग महाराष्ट्र सरकार को अस्थिर करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं : कांग्रेस

गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के स्वास्थ्य के बारे में कहा था कि वह एक मुख्यमंत्री हैं और तथ्य यह है कि वह ठीक नहीं हैं, लेकिन उनकी मौजूदा स्थिति क्या है? आप जानते हैं कि वह एम्स से वापस आए हैं. वह अपने परिवार के साथ हैं. उन्हें आराम करने दीजिए. मेरा मानना है कि गोवा के लोगों की सेवा करने के बाद उनका इतना अधिकार है. Also Read - मोदी सरकार 2.0 की पहली वर्षगांठ, 6 साल पूरे होने पर भाजपा करेगी 'आभासी रैलियों' का आगाज, गिनाएगी उपलब्धियां

 manohar parrikar Also Read - शरद पवार से मिले उद्धव ठाकरे, संजय बोले- अभी तक हमारी सरकार गिराने का उपाय नहीं तलाश पाए विरोधी

वह गोवा कांग्रेस के प्रवक्ता जितेंद्र देशप्रभु की उस मांग से जुड़े एक प्रश्न का जवाब दे रहे थे जिसमें कहा गया था कि प्रदेश सरकार को बीमार मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की हालत के बारे में जानकारी देनी चाहए. मंत्री ने कहा, ‘जितेंद्र देशप्रभु जो चाहे कह सकते हैं, पूरा गोवा जानता है कि मुख्यमंत्री की हालत ठीक नहीं है. वह अपने परिवार के साथ वक्त बिताना चाहते हैं. उनके परिवार को उनकी सेहत के बारे में टिप्पणी करनी चाहिए. राणे ने आरोप लगाया कि कांग्रेस पर्रिकर की जान के पीछे पड़ी है. उन्होंने कहा, ‘‘एक चीज है जिसे निजता कहते हैं हमें उसे बरकरार रखने की जरूरत है.

पर्रिकर (62) अग्नाशय संबंधी बीमारी से पीड़ित हैं और वह दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में कई दिनों तक भर्ती रहे थे. 14 अक्टूबर को उन्हें यहां नजदीक के डोना पॉला स्थिति अपने आवास में लाया गया. आरएसएस की गोवा इकाई के पूर्व प्रमुख सुभाष वेलिंगकर ने आरोप लगाया है कि भाजपा हाईकमान मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर पर उनके खराब स्वास्थ्य के बावजूद पद पर बने रहने का दबाव बना रहा है ताकि पार्टी राज्य में सत्ता में बनी रहे. हालांकि, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने वेलिंगकर के आरोप को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि पर्रिकर को मुख्यमंत्री पद पर बने रहने के लिए मजबूर नहीं किया जा रहा है और उनके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है.