पणजी. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर अगले हफ्ते यहां अपने निजी आवास पर कैबिनेट की एक बैठक सहित दो आधिकारिक बैठकों की अध्यक्षता करेंगे. मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि पर्रिकर अपने आवास में 31 अक्टूबर को कैबिनेट की एक बैठक की अध्यक्षता करेंगे. दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) से वह 14 अक्टूबर को वापस आए थे। वह अग्नाशय संबंधी बीमारी से पीड़ित हैं.

सीएमओ अधिकारी ने बताया कि वह निवेश प्रोत्साहन बोर्ड की एक बैठक की अध्यक्षता भी करेंगे. वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता ऐलक्सियो आर लॉरेंसो ने कहा, निजी आवास में आप कैबिनेट बैठक नहीं कर सकते हैं. यह आधिकारिक आवास में होनी चाहिए. बता दें कि पर्रिकर ने पिछली बैठकों की अध्यक्षता वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए की थी.

कैंसर की बात आई सामने
बता दें कि इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने शनिवार को आखिरकार स्वीकार किया कि पर्रिकर अग्न्याशय कैंसर से पीड़ित हैं. मुख्यमंत्री शासन के लिए फिट हैं या नहीं जानने को लेकर विपक्ष की लगातार मांग के बीच यह टिप्पणी आई है. राज्य सरकार अब तक पर्रिकर की बीमारी को लेकर सवालों को टालती आ रही थी. स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे पणजी में मीडि‍याकर्मियों से कहा, “वह गोवा के मुख्यमंत्री हैं और बात यह है कि वह स्वस्थ नहीं हैं. उन्हें अग्न्याशय कैंसर है. इस तथ्य को नहीं छुपाया जा रहा.”

कांग्रेस पर लगाया आरोप
मंत्री राणे ने कहा, “उन्हें अपने परिवार के पास शांति से रहने दीजिए. गोवा के लोगों की सेवा करने के बाद उनके पास इतना तो अधिकार है कि अगर वह अपने परिवार के साथ कुछ समय बिताना चाहते हैं तो किसी को उनसे कुछ पूछने की जरूरत नहीं है.”राणे ने कांग्रेस पर बीमार मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य को लेकर राजनीति करने को लेकर भी निशाना साधा और कहा कि अगर कांग्रेस पर्रिकर का स्वास्थ्य जानने के लिए अदालत जाना चाहती है तो वह ऐसा करने के लिए स्वतंत्र है.