नई दिल्ली: देश में कोरोना (Coronavirus) का प्रसार तेजी से हो रहा है. देश के कई राज्यों में हालात बेकाबू हो रहे हैं. जितनी तेजी से देश में संक्रमण फैल रहा है उतनी ही तेजी से हमार सामने रोज इससे होने वाली मौतो की संख्या भी सामने आ रही है. इस वयारस की वजह से देश के हजारों परिवारों ने अपनो को खो दिया. इस बीच हैदराबाद (Hyderabad) से एक बहुत ही दुखद मामला सामने आया. मामला हैदराबाद के एक अस्पताल का है जहां एक कोविड-19 (Covid-19 Infection) संक्रमित व्यक्ति की मौत हो गई. व्यक्ति ने मरने से पहले अपने परिवार वालों को कॉल और मैसेज भी किया था.Also Read - अच्छी खबर! दिल्ली में बीते दो हफ्तों में कोविड के एक्टिव मरीजों की संख्या में 50% से ज्यादा की कमी, बीते 24 घंटे में 7498 नए केस

जानकारी के अनुसार ये पूरा मामला हैदराबाद के एक चेस्ट हॉस्पिटल का है. यहां 34 साल के एक व्यक्ति को कोरोना वायरस के लक्षण के तहत भर्ती किया गया था. शुक्रवार को उस शख्स की मौत हो गई. परिवार वालों ने बाताय कि मौत से पहले व्यक्ति ने वीडियो कॉल की थी. बताजा जा रहा है कि व्यक्ति ने मौत से कुछ देर पहले अपने पापा को मैसेज किया था कि वह सांस नहीं ले पा रहा है. उसे सांस लेने में काफी दिक्कत हो रही है और कुछ देर बाद ही उन्हें उसकी मौत की खबर मिली. Also Read - MP Corona Update: इंदौर एयरपोर्ट पर 15 यात्री मिले संक्रमित, दुबई की उड़ान में सवार होने से रोका गया

परिजन लगातार अस्पताल पर आरोप लगा रहे हैं. उनका कहना है कि अस्पताल स्टाफ ने वेंटिलेटर को हटा दिया था जिसकी वजह से उसे सांस लेने में दिक्कत हुई और उसे अपनी दिल की धड़कन रुकने का भी एहसास हो रहा था. उनका आरोप है कि अस्पताल की लापरवाही के चलते युक तीन घंटे तक तड़पता रहा. युवक ने परिवार को वीडियो कॉल भी किया था जो कि इस समय सोशल मीडिया में वायरल भी हो गया. Also Read - दूसरी बार कोरोना पॉजिटिव हुए Chiranjeevi, बोले- जो मेरे टच में आए वो टेस्ट कराएं

इन आरोप पर अस्पताल प्रशासन ने कहा कि सभी आरोप बेबुनियाद है और वह युवक आक्सीजन में ही था. बताया जा रहा  है कि युवक के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि उसके अंतिम संस्कार के बाद हुई.