travel restrictions for Indian students: सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि अमेरिका, कनाडा और ब्रिटेन सहित कई देशों ने भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी है तथा कोरोना वायरस की स्थिति में सुधार होने के साथ अन्य देशों द्वारा भी ऐसा किए जाने की उम्मीद है.Also Read - बीजेपी के गुलाम अली और बिप्लब कुमार देब ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली

विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्यसभा को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि सरकार इस बात का प्रयास कर रही है कि विदेशी विश्वविद्यालयों में पंजीकृत भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी जाए. Also Read - बिहार के मंत्री रामानंद यादव पर केस दर्ज, भाजपा नेता सुशील मोदी ने किया मानहानि का मुकदमा

उन्होंने कहा, ‘‘विदेशी विश्वविद्यालयों में पंजीकृत भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंध, जहां कहीं भी लगाए गए हैं, उनमें ढील दिलवाने के मकसद से (विदेश) मंत्रालय प्रयास कर रहा है ताकि संबंधित देशों तक उनकी यात्रा संभव हो सके.’’ Also Read - Rajpath Renamed: बदल जाएगा 'राजपथ' का नाम, अब 'कर्तव्य पथ' से होगा मशहूर | Watch Video

मुरलीधरन ने कहा, ‘‘ विदेशों में हमारे मिशन इस मुद्दे को संबंधित सरकारों के समक्ष उठा रहे हैं और उन सरकार को इस बात के लिए मना रहे हैं कि यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी जाए.’’ उन्होंने कहा कि यात्रा प्रतिबंध का मुद्दा कई देशों के समक्ष मंत्री स्तर पर उठाया गया है.

उन्होंने कहा, ‘‘परिणामस्वरूप, अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, आयरलैंड, जर्मनी, नीदरलैंड, बेल्जियम, लक्जमबर्ग, जार्जिया आदि देशों में भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी गयी है. कोविड स्थिति में सुधार आने के बाद कई अन्य देशों द्वारा ढील दिए जाने की उम्मीद है.’’

मुरलीधरन ने कहा कि छात्रों सहित विदेशों में रह रहे भारतीय का कल्याण सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है.

(इनपुट भाषा)