मुंबई/ठाण. जन्माष्टमी के अवसर पर सोमवार को आयोजित दही हांडी कार्यक्रम के दौरान मुंबई और उपनगरों में हुए हादसों में एक गोविंदा की मौत हो गई, जबकि 150 घायल हो गये. क्षेत्र के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के एक अधिकारी ने बताया कि पड़ोसी ठाणे जिले में हुए हादसे में 10 और 12 साल के दो बच्चों सहित 13 गोविंदा घायल हो गए.Also Read - Janmashtami पर सीएम योगी का बड़ा फैसला- मथुरा समेत इन 7 स्थानों पर नहीं बिकेगी शराब, मांस की बिक्री भी बैन

उन्होंने बताया कि घायल गोविंदाओं को ठाणे और कल्वा के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने बताया कि मध्य मुंबई के धारावी में आज दोपहर दही हांडी कार्यक्रम के दौरान कुश खांडारे (20) जैसे ही मानव पिरामिड की पहली श्रृंखला पर चढ़ा उसे मिर्गी का दौरा पड़ा. Also Read - सिंधिया राजघराने के 100 करोड़ के जेवरात से हुआ राधा-कृष्ण का श्रृंगार, ग्वालियर के मंदिर की सुरक्षा में तैनात किए गए जवान

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि खांडारे को तुरंत सायन अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. वह धारावी के एक चॉल का रहने वाला था. अधिकारी ने बताया कि रात आठ बजे तक प्राप्त सूचना के अनुसार, मुंबई और उपनगरीय क्षेत्र में हुई अलग-अलग घटनाओं में 150 गोविंदा घायल हुए हैं. Also Read - Janmashtami 2021: जन्माष्टमी के दिन रात के 12 बजे इस तरह कराएं कान्हा को स्नान, इन बातों का रखें ख्याल