नई दिल्ली: देश के कई राज्‍यों में ठंड का कहर जारी है और इन राज्‍यों में पारा पारा 4 से 7 डिग्री नीचे पहुंच गया है. राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ इलाकों में गुरुवार को तापमान में चार से सात डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज किये जाने के साथ ही मौसम विभाग ने समूचे उत्तर भारत में कड़ाके की सर्दी से फिलहाल राहत मिलने की उम्मीद से इनकार किया है. वहीं, राजस्‍थान में कई जगह बर्फ दिखाई दी.

मौसम विभाग ने गुरुवार को दोपहर बाद ढाई बजे जारी बयान में कहा कि पिछले 24 घंटों के दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ शहरों में तापमान में तेजी से (लगभग चार से सात डिग्री सेल्सियस) गिरावट दर्ज की गई है. मौसम विभाग ने कहा कि 28 दिसंबर तक यहां ऐसी ही स्थिति रहेगी और इसके साथ ही सुबह और रात के समय घना कोहरा भी छाया रहेगा.

दिल्ली में सर्द हवाओं के थपेड़े, पारा 5.8 डिग्री सेल्सियस पहुंचा
– राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गुरुवार को भी अत्यधिक ठंड की स्थिति बनी रही
– सुबह चारों ओर घने कोहरे के साथ पारा 5.8 डिग्री सेल्सियस तक नीचे लुढ़का
– जो मौसम के औसत तापमान से दो डिग्री कम था
– मौसम विभाग के अनुसार, साल 1997 के बाद से से यह दिसंबर सबसे ठंडा रहा है
– साल 1997 के बाद से अब तक दिसंबर महीने में सबसे लंबी अवधि के और सबसे सर्द दिन रिकॉर्ड किए गए हैं.”
– बुधवार को अधिकतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया
– औसत से 7 डिग्री तापमान बुधवार को कम था जबकि न्यूनतम 5.5 डिग्री सेल्सियस रहा
– बुधवार को तापमान औसत से तीन डिग्री कम था
– एनसीआर के नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुरुग्राम में भी ठंड का कहर जारी है

रात में पारा 4 डिग्री से नीचे पहुंच रहा
पूर्वी उत्तर प्रदेश के बहराइच, लखनऊ, गोरखपुर और वाराणसी तथा बिहार में पूर्णिया, भागलपुर, पटना और गया में दिन का तापमान घटकर 10 से 15 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है और इन शहरों में अगले 24 घंटों में सर्वाधिक चार से 7 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आने का अनुमान जताया है.

दिन में तापमान 8 से 11 डिग्री तक नीचे
इसके अलावा भीषण सर्दी से जूझ रहे दिल्ली, अमृतसर, श्रीगंगानगर, चंडीगढ़, और बरेली सहित अन्य शहरों में गुरुवार को दिन का तापमान आठ से 11 डिग्री सेल्सियस तक पहुच गया.

कुछ जगह बारिश का अनुमान
विभाग ने उपग्रह चित्रों से प्राप्त जानकारी के आधार पर उत्तर भारत में गंगा यमुना के मैदानी क्षेत्रों में बादल छाये रहने के मद्देनजर अधिकांश इलाकों में घने कोहरे की स्थिति बरकरार रहने के साथ कुछ स्थानों पर छिटपुट बारिश की आशंका व्यक्त की है.

दिन में सबसे सर्द इलाका दिल्‍ली का पालम रहा
दिल्ली में गुरुवार को सबसे सर्द इलाका पालम रहा, जहां दिन का तापमान 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जबकि अंबाला में दिन का तापमान आठ, चंडीगढ़ में 8.6 श्रीगंगानगर में 9, जम्मू में 9.8 और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बरेली में 10.4 डिग्री सेल्सियस रहा.

कड़ाके की सर्दी और शीतलहर का प्रकोप बढ़ेगा
24 घंटों के लिए जारी पूर्वानुमान के मुताबिक, उत्तरी क्षेत्र में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के अधिकांश इलाकों में सर्द दिन की स्थिति जारी रहने के कारण कड़ाके की सर्दी और घने कोहरे की स्थिति बनी रहेगी. जबकि राजस्थान के कुछ इलाकों में शीतलहर की स्थिति सर्दी का प्रकोप बढ़ सकता है.

इन राज्‍यों में बारिश और बर्फबारी
तेलंगाना, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, ओडिशा, झारखंड, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और कर्नाटक के कुछ इलाकों में हल्की से छिटपुट बारिश की संभावना है. जबकि अरुणाचल प्रदेश के कुछ इलाकों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है.

राजस्थान में हाड़ कंपाने वाली सर्दी, फतेहपुर में तापमान शून्य से नीचे
– राजस्थान के अधिकतर शहरों में गुरूवार को न्यूनतम तापमान में कल के मुकाबले एक डिग्री सेल्सियस से लेकर पांच डिग्री से. तक की गिरावट रही
– फतेहपुर में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज
– सीकर जिले में गुरुवार को पारा जमाव बिन्दु पर पहुंच गया
– पेड़ों पर पहाड़ी क्षेत्रों की तरफ बर्फ जमने लग गई है.
– झुंझुनू में भी एक सप्ताह से तापमान जमाव बिंदु से नीचे चल रहा है
-शेखावटी अचंल में हाड़ कंपाने वाली सर्दी के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है
– गुरुवार को सुबह भी कई जगह बर्फ जमी दिखाई दी
– मौजूदा सीजन में शेखावटी अंचल में अब तक का सबसे कम तापमान है
– इस सीजन में पहली बार पारा शून्य से नीचे गया है
– अगले कुछ दिन तक जबरदस्त ठंड पड़ेगी
– स्कूलों में शीतकालीन अवकाश
– गुरुवार को सुबह सीकर में न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस और पिलानी में 0.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया
– राज्यभर में हवा में ठंडक और नमी के कारण हाड़ कंपाने वाली सर्दी का दौर शुरू हो गया.

सबसे ज्यादा अलवर, सीकर, झूंझुनू, चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर और नागौर में रहेगी  
-सीकर में न्यूनतम तापमान 0.0 डिग्री सेल्सियस, पिलानी में 0.5 डिग्री, माउंट आबू में 1.0 डिग्री, चूरू में 1.3 डिग्री,
– वनस्थली में न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस, बीकानेर में 3.7 डिग्री, श्रीगंगानगर में 3.9 डिग्री सेल्सियस
– अजमेर में 5.5 डिग्री, जयपुर में 5.8 डिग्री, जैसलमेर में 5.6 डिग्री, कोटा में 6.4 डिग्री, सवाई माधोपुर-चित्तौड़गढ़ में 6.5- 6.5 डिग्री सेल्सियस,
-फलौदी में 6.8 डिग्री, ऐरनपुरा रोड में 7 डिग्री, डबोक-बूंदी में 7.2-7.2 डिग्री सेल्सियस और बाड़मेर में 8.5 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा
– अभी ठंड से राहत नहीं मिलेगी और रविवार तक राज्य के अधिकतर हिस्से शीतलहर की चपेट में रहने की आशंका है
– ठंड से सबसे ज्यादा प्रभावित अलवर, सीकर, झूंझुनू, चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर और नागौर जिले रहेंगे

पंजाब और हरियाणा में शीतलहर का प्रकोप जारी, नारनौल और बठिंडा राज्यों के सबसे ठंडे स्थान
– पंजाब और हरियाणा में गुरुवार को शीतलहर का प्रकोप जारी रहा और न्यूनतम तथा अधिकतम तापमान में गिरावट रही
-हरियाणा में नारनौल का न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस रहा.
– हिसार में न्यूनतम तापमान 3.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज
– हरियाणा के अन्य शहरों में भी पारे में गिरावट जारी रही.
– रोहतक में न्यूनतम तापमान गिरकर 3.4 डिग्री से. करनाल में 6 डिग्री सेल्सियस, भिवानी में 4.8 डिग्री सेल्सियस, सिरसा में 4.3 डिग्री से. और अंबाला में 5.3 डिग्री से. न्यूनतम दर्ज

पंजाब में बठिंडा सबसे ठंडा स्थान जहा 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया
– पंजाब के अन्य शहरों में भी रात में ठंड का प्रकोप जारी है
– फरीदकोट में पारा गिरकर 4.5 डिग्री से. जबकि लुधियाना में तापमान 6.6 डिग्री से. रहा.
– पटियाला में तापमान 6.4 डिग्री से. आदमपुर में 6.8 डिग्री से., पठानकोट में 6.4 डिग्री से. और अमृतसर में तापमान 6.5 डिग्री से. रहा
– चंडीगढ़ में तापमान 6.5 डिग्री सेल्सियस
चंडीगढ़ में बुधवार को अधिकतम तापमान गिरकर 9 डिग्री से. रहा, जो सामान्य से 12 डिग्री कम था
– कल चंडीगढ़ में दर्ज अधिकतम तापमान ने 19 साल का कीर्तिमान तोड़ दिया जब दिसंबर में दिन का तापमान 9.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.
– चंडीगढ़ की तुलना में बुधवार को मनाली और शिमला में दिन का तापमान कुछ अधिक रहा
– आने वाले तीन दिन तक दोनों राज्यों में शीतलहर और कोहरे का प्रभाव जारी रहेगा
– क्षेत्र के मैदानी इलाकों में 28 दिसंबर को घना कोहरा छाया रहेगा
– 31 दिसंबर को दृश्यता में सुधार होने की उम्मीद है लेकिन शीतलहर जारी रहेगी

जम्‍मू-कश्‍मीर में ठंड माइनस ने बहुत नीचे पारा पहुंचा
– करगिल के द्रास में तापमान शून्य से -30.2 डिग्री सेल्सियस कम
– करगिल जिले का द्रास गुरुवार को शून्य से 30.2 डिग्री से. कम तापमान के साथ जम्मू कश्मीर और लदाख केंद्र शासित प्रदेशों का सबसे ठंडा स्थान रहा.
– कश्मीर, जम्मू और लदाख में मौसम ठंडा और सूखा रहा
– क्षेत्र के अधिकांश स्थानों में रात के तापमान में गिरावट देखी गई
– बुधवार को श्रीनगर की सबसे ठंडी रात रही, जहां तापमान शून्य से -पांच डिग्री से. कम दर्ज किया गया.
– शीतकालीन राजधानी जम्मू में न्यूनतम तापमान 6.4 डिग्री से. रहा
– मौसम के जम्‍मू का औसत तापमान से 1.8 डिग्री सेल्सियस कम था
– द्रास में न्यूनतम तापमान शून्य से – 30.2 डिग्री सेल्सियस कम रहा
– द्रास में अधिकतम तापमान शून्य से -13 डिग्री सेल्सियस कम रहा
– लेह में तापमान शून्य से नीचे -18 डिग्री सेल्सियस रहा.
– दक्षिण कश्मीर में बर्फ से ढके पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे -12.7 डिग्री से. रहा
– उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग में तापमान शून्य से नीचे -11.2 डिग्री से. कम रहा
– कुपवाड़ा में शून्य से 5.6 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया
– जम्मू के रियासी जिले में कटरा का तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस रहा.