नई दिल्ली: जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर और लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद को मोदी सरकार ने नए आतंकवाद निरोधक कानून के तहत बुधवार को आतंकवादी घोषित कर दिया है. इन दोनों के साथ ही गृह मंत्रालय ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम, मुंबई आतंकवादी हमले के आरोपी जकी-उर-रहमान-लखवी को भी आतंकवादी घोषित किया है.

संसद के गैरकानूनी गतिविधियां (निरोधक) संशोधन कानून, 1967 में महत्वपूर्ण संशोधन को मंजूरी देने के करीब एक महीने बाद यह फैसला लिया गया. गृह मंत्रालय की एक अधिसूचना में कहा गया है, ‘‘केंद्र सरकार मानती है कि मौलाना मसूद अजहर आतंकवाद में शामिल है और मौलाना मसूद अजहर को उपरोक्त कानून के तहत आतंकवादी घोषित किया जाता है.’’

इसमें कहा गया है, ‘‘जहां तक केंद्र सरकार का मानना है हाफिज मोहम्मद सईद आतंकवाद में शामिल है और हाफिज मोहम्मद सईद को उपरोक्त कानून के तहत आतंकवादी घोषित किया जाता है.’’ बता दें कि पाकिस्तान में रहने वाला हाफिज सईद और अजहर मसूद भारत में आतंकी हमलों के मास्टरमाइंड हैं. वहीं, दाऊद इब्राहीम 1993 बम धमाकों का आरोपी है. ये पहला मौका है जब आधिकारिक रूप से इन्हें आतंकी घोषित किया गया है.

रूस में PM मोदी का जोरदार स्वागत, पुतिन ने कहा- ‘हमारी बात होती रहती है, यहां वेलकम करना मेरा सौभाग्य’